News in Hindi

इस जगह पर होती है मोटरसाइकिल की पूजा, मांगी जाती है मन्नत

वैसे तो भारत में अनगिनत मंदिर हैं और करीब करीब हर देवी देवता का मंदिर हमारे देश में मिल जाता है, लेकिन यह एक अनोखा स्थान है, जहां लोग मोटरसाइकिल से मन्नत मांगते हैं। यह मोटरसाइकिल 21 साल पुरानी है और यहां के लोगों को ही नहीं बल्कि पुलिसवालों को भी यह चमत्कार दिखा चुकी है।

जोधपुर अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर जोधपुर से पाली जाते वक्त पाली से करीब 20 किलोमीटर पहले रोहिट थाने का दुर्घटना संभावित क्षेत्र का बोर्ड लगा दिखता है। इससे थोड़ा ही आगे बढ़ते 30 से 40 प्रसाद व पूजा अर्चना के सामान की दुकाने दिखाई देती हैं। यहीं एक चबूतरा भी नजर आता है जहां अखंड जोत जलती रहती है और साथ ही खड़ी होती है फूल मालाओं से लदी बुलेट मोटर साइकिल।

यह स्थान ओम बना का है। वे पाली के चोटिला गांव के ठाकुर जोग सिंह राठौड़ के बेटे थे और उनकी मृत्यु 1977 में इसी मोटरसाइकिल पर जाते हुए एक दुर्घटना में हो गई थी। उस समय इस स्थान पर हर रोज कोई न कोई वाहन दुर्घटना का शिकार होता था। जिस पेड के पास ओम सिंह की दुर्घटना घटी उसी जगह पता नहीं कैसे कई वाहर दुर्घटना का शिकार हो जाते थे। हालांकि ओम की मृत्यु के बाद पुलस ने अपनी कार्यवाही के तहत मोटरसाइकिल को थाने में लाकर बंद कर दिया, लेकिन दूसरे ही दिन थाने से मोटरसाइकिल गायब मिली।

जब तलाश की गई तो पता चला कि मोटरसाइकिल दुर्घटना वाले स्थान पर ही है। पुलिसकर्मी दोबारा मोटरसाइकिल को थाने ले आए, लेकिन हर बार सुबह मोटरसाइकिल को थाने लाया जाता और वह रात केा वहीं दुर्घटना स्थल पर पहुंच जाती। पुलिस ने इसे ओम सिंह की आत्मा की इच्छा समझकर उसे वहीं छोड़ दिया।

इसके बाद रात में वाहन चालकों को ओम सिंह अक्सर वाहनों को दुर्घटना से बचाने के उपाय करते व चालकों को रात्रि में दुर्घटना से सावधान करते दिखाई देने लगे। वो उस दुर्घटना संभावित जगह तक पहुंचने वाले वाहनो को जबरदस्ती रोक देते या धीरे कर देते ताकि उनकी तरह कोई और दुर्घटना का शिकार न बने।