News in Hindi

फ्रांस की आइरिस मितेने के सिर सजा मिस यूनिवर्स का ताज

विश्व भर की सुंदरियों को मात देते हुए फ्रांस की आइरिस मितेने 65वीं मिस यूनिवर्स बन गई हैं। उन्हें पूर्व मिस यूनिवर्स पिया वुट्सबाख ने ताज पहनाया। फलीपींस की राजधानी मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरेना में मेजबान हार्वे ने इरिस के नाम का ऐलान किया। इस पेजेंट में पहली रनरअप मिस हैती और दूसरी रनरअप मिस कोलंबिया रहीं। वहीं भारत की रोशमिता हरिमूर्ति टॉप 10 में भी जगह नहीं बना सकीं।

मिस यूनिवर्स आइरिस फिलहाल डेंटल सर्जरी की डिग्री कर रही हैं। उन्हें खेलकूद, दुनियाभर में घूमने और नए फ्रांसीसी व्यंजन बनाने का भी शौक है। मितेने नॉर्दन फ्रांस के लिली की रहने वाली हैं।

इस बार भारत के लिए मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता काफी महत्वपूर्ण थी। इस कॉम्पिटीशन में तीन भारतीय महिलाएं अलग अलग तरीकों से हिस्सा ले रही थीं। रोशमिता हरिमूर्ति भारत को रिप्रेजेंट कर रही थीं, पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन इस शो को जज कर रही थीं जबकि भारतीय मूल की सिख लड़की किरन जस्साल ने मलेशिया को रिप्रेजेंट किया।

इस प्रतियोगिता की 13 फाइनलिस्ट में केन्या, इंडोनेशिया, मेक्सिको, पेरू, पनामा, कोलंबिया, फिलीपींस, कनाडा, ब्राजील, हैती, थाईलैंड और यूएसए की कंटेस्टेंट्स शामिल हुईं। 25 साल की मिस हैती राकेल पेलिसिए इस पेजेंट में फर्स्ट रनरअप रहीं, जबकि कोलंबिया की 23 साल की आंद्रिया टोवर सेकंड रनर अप रहीं।