News in Hindi

यह है विश्व का सबसे बड़ा प्राकृतिक शिवलिंग, बढ़ रही है ऊंचाई

इसे भगवान शिव का चमत्कार ही कहेंगे। छत्तीसगढ़ की राजधानी से महज 90 किलोमीटर दूर गरियाबंद जिले के जंगलों में एक प्राकृतिक शिवलिंग स्थित है। विश्व भर में इस शिवलिंग को हर वर्ष बढऩे वाले शिवलिंग के नाम से जाना जाता है। अर्धनारीश्वर इस शिवलिंग को भकुर्रा महादेव या भूतेश्वर महादेव भी कहा जाता है।

यहां के स्थानीय पंडितों और मंदिर समिति के सदस्यों का कहना है कि हर महाशिवरात्रि को इसकी ऊंचाई और मोटाई नापी जाती है और हैरानी की बात यह है कि हर बार इस शिवलिंग की ऊंचाई एक इंच से पौन इंत तक बढ़ी हुई ही मिलती है। भकुर्रा महादेव के संबंध में कहा जाता है कि कभी यहां हाथी पर बैठकर जमींदार अभिषेक किया करते थे।

25 सालों से भूतेश्वर महादेव संचालन समिति से जुड़े मनोहर लाल देवांगन ने बताया कि भूतेश्वर महादेव को भकुर्रा महादेव भी कहते हैं। यह शायद विश्व का पहला ऐसा शिवलिंग है, जिसकी ऊंचाई हर साल बढ़ती है। 1952 में प्रकाशित कल्याण तीर्थाक के अनुसार इस शिवलिंग की ऊंचाई 35 फीट और व्यास 150 फीट का है। वहीं वर्ष 1978 में इसकी ऊंचाई 40 फीट बताई गई थी।

वर्ष 1987 में इसकी ऊंचाई 55 फीट और 1994 में इसकी ऊंचाई 62 फीट और व्यास 290 फीट मापा गया। वर्तमान में इस शिवलिंग की ऊंचाई 80 फीट बताई जा रही है। इस शिवलिंग पर एक हल्की सी दरार भी है, जिसे कई लोग इसे अर्धनारीश्वर का स्वरूप भी मानते हैं।