आईसीसी की पहली महिला मैच रेफरी बनी भारत की लक्ष्मी

India's first woman match referee, India's Lakshmi

 भारत की जीएस लक्ष्मी अंतर्राष्ट्रीय पैनल में चुने जाने वाली आईसीसी की पहली महिला मैच रेफरी बन गई हैं।

लक्ष्मी से पहले इसी महीने क्लेयर पोलोसक पहली बार पुरुष वनडे मैचों का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली महिला अंपायर बनी थीं और अब लक्ष्मी अब तत्काल प्रभाव से ही अंतर्राष्ट्रीय मैच रेफरी बन गई हैं।

51 वर्षीय लक्ष्मी घरेलू महिला क्रिकेट में 2008-09 के दौरान मैच रेफरी के पद पर रह चुकी हैं और इसके अलावा वह तीन महिला वनडे मैचों और इतने ही महिला टी-20 मैचों में भी रेफरी की भूमिका निभा चुकी हैं।

लक्ष्मी ने कहा, “आईसीसी द्वारा अंतर्राष्ट्रीय पैनल में चुना जाना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है क्योंकि यह मेरे लिए नए रास्ते खोलेगा। भारत में एक क्रिकेटर और मैच रेफरी के रूप में मेरा लंबा करियर रहा है। मैं अपने अनुभव को एक खिलाड़ी और मैच अधिकारी के रूप में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अच्छी तरह से उपयोग करने की आशा करती हूं।”

उन्होंने कहा, “मैं आईसीसी, बीसीसीआई के अधिकारियों और उन सभी खिलाड़ियों का धन्यवाद करना चाहती हूं, जिन्होंने मेरा समर्थन किया है। मुझे उम्मीद है कि मैं अपनी पूरी क्षमता का प्रदर्शन करूंगी और अपनी जिम्मेदारियों पर खरा उतरने का प्रयास करूंगी।”

आईसीसी के अंपायर और रेफरी के सीनियर मैनेजर एड्रियन ग्रिफिथ ने कहा, “हम लक्ष्मी और एलॉस का पैनेल में स्वागत करते हैं। उनकी नियुक्ति महिला अधिकारियों को प्रोत्साहित करने की हमारी प्रतिबद्धता में एक महत्वपूर्ण कदम है। उनकी इस प्रगति को देखकर काफी खुशी हुई है और यह अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणा का उदाहरण बनेगा। मैं उन्हें लंबे और शानदार करियर के लिए अपनी शुभकामनाएं देता हूं।”