News in Hindi

ऐसे पता लगाएं कहीं आपकी प्लेट में परोसे गए चावल प्लास्टिक के तो नहीं

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक नया बवाल मचा हुआ है। बात शायद आपके कानों तक भी आई हो। जी हां हम Plastic Rice की ही बात कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर प्लास्टिक के चावल (Plastic Rice) की कहानी तेजी से फैल रही है। वायरल हो रहे वीडियो में लोग चावल की गेंद बनाकर खेलते नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि यह Plastic Rice हैं।

पिछले कुछ दिनों से आंध्रप्रदेश और तेलंगाना से इस तरह की खबरें आ रही हैं। वहीं हैदराबद के चार मिनार क्षेत्र, सरूरनगर और मीरपेट में कई आउटलेट्स पर Plastic Rice मिलने की शिकायतें भी आई हैं। राज्य के खाद्य एवं रसद आपूर्ति विभाग ने टास्क फोर्सेस को सैंपल लेने भेजा है।

Plastic Rice
Plastic Rice

ऐसे पता चला प्लास्टिक के हैं चावल

मीरपेट के 40 वर्षीय अशोक यह देखकर हैरान थे कि जिस चावल को वो खा रहे थे उसकी बॉल बनाकर देखी तो वह उछल रहे थे। इसे खाकर परिवार के लोग बीमार भी हो गए। उधर सरूरनगर में एक जर्नलिस्ट के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। वो जो बिरयानी लाए, उससे भी कुछ ऐसे ही बॉल्स बने।

केरल में भी प्लास्टिक चावल

केरल से भी एक वीडियो सामने आया है। इसमें पके हुए चावल के ऊपर बनने वाली परत को जलाकर दिखाया जा रहा है। हालांकि डेक्कन क्रोनिकल की खबर के अनुसार कुछ संस्थानों ने इन चावल की जांच की है। इनमें कोई प्लास्टिक, पॉलीमर या पॉलीविनाइल नहीं पाया गया है। इसी तेलंगाना में भी सैंपल्स की जांच में प्लास्टिक नहीं मिला।

चीन में बनते हैं प्लास्टिक चावल

करीब एक दशक से चीन में प्लास्टिक के चावल बन रहे हैं। कहा जाता है कि यह चावल आलू के स्टार्च और प्लास्टिक से मिलकर बनाए जाते हैं। हालांकि खबरों के अनुसार जिस साइंटिफिक कम्युनिटी ने इन कथित प्लास्टिक चावल की जांच की थी, उन्होंने भी यही नतीजा निकाला था कि ऐसे कोई चावल नहीं हैं।

Plastic Rice
Plastic Rice

ऐसे करें जांच

वैसे तो प्लास्टिक के चावल होने की कोई पुष्टि नहीं हुई है। फिर भी असली और नकली चावल के लिए वॉटर टेस्ट, फायर टेसट और मोल्ड टेस्ट किया जा सकता है। कच्चे चावल पानी के बोल में डालें। अगर सभी चावल नीचे बैठ जाएं तो ठीक हैं, अगर पानी पर तैरना शुरू करें तो चावल मिलावटी हैं।