News in Hindi

जीका वायरस ने भारत में दी दस्तक, तीन लोगों में वायरस की पुष्टि

दुनियाभर में तबाही मचाने वाला जीका वायरस ( Zika Virus ) अब भारत पहुंच चुका है। अब तक भारत इस खतरनाक वायरस की चपेट से परे था। विश्व स्वास्थ्य संगठन(डब्ल्यूएचओ) ने गुजरात के अहमदाबाद में तीन लोगों में जीका वायरस की पुष्टि की है। इनमें से एक गर्भवती महिला है। इस महिला की जांच जनवरी में की गई थी। यह तीनों ही लोग अहमदाबाद के बापूनगर के रहने वाले है।

भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने भी अपनी वेबसाइट पर जीका वायरस के तीन मामलों की पुष्टि की है। वेबसाइट पर रिपोर्ट उपलब्ध है, जिसके अनुसार पुणे की नेशनल रेफरेंस लैबोरेटरी ने फाइनल नतीजे दिए हैं, इसमें तीनों पीड़ित आरटी—पीसीआर टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं।

Zika Virus attacks in India

डब्ल्यूएचओ की वेबसाइट के अनुसार अहमदाबाद के बीजे मेडिकल कॉलेज ने 10 से 16 फरवरी 2016 के बीच 93 ब्लड सैंपल लिए थे। इनमें से तीन को जीका वायरस की पुष्टि हुई है। सबसे पहले ब्राजील में पाए जाने वाला यह जीका वायरस धीरे धीरे अफ्रीका, अमेरिका और एशिया के कई देशों तक फैल चुका है।

इस वायरस का असर सबसे ज्यादा नवजात बच्चों पर होता है। इसमें बच्चों का सिर छोटा रह जाता है। उनका दिमाग भी पूरी तरह से विकसित नहीं हो पाता। वह अपनी उम्र के बच्चों से पिछड़ जाते हैं। यह वायरस एडीज, एजिप्टी और अन्य मच्छरों से फैलता है। ये ही मच्छर चिकनगुनिया और डेंगू भी फैलाते हैं। जीका वायरस के लक्षणों में बुखार, जोड़ों में दर्द, शरीर पर लाल चिकत्ते, थकान और सिर दर्द आदि शामिल हैं।