इस इस्लामिक देश के पुरुष रहते हैं पर्दे में, महिलाएं करती हैं पूरी ऐश

दुनियाभर में ज्यादातर देश पुरुष प्रधान हैं और महिलाओं के अधिकारों के लिए जंग तो केवल भारत में ही नहीं, बल्कि अमरीका तक जैसे बड़े देशों में लड़ी जा रही है। ऐसे में एक ऐसे देश का पता चलता है, जहां महिलाएं पूरी आजादी से रहती हैं और पुरुषों को तमाम बंदिशों में रखा जाता है। यहां हम आपको बता दें कि हम पुरुष और महिला में समानता के भाव को सपोर्ट करते हैं, ना कि नारी या पुरुष शोषण को।

पश्चिमी अफ्रीका के नाइजर देश में रहने वाली एक जनजाति महिलाओं को हर अधिकार देती है। यहां महिलाएं अपनी मर्जी से कोई भी काम करने के लिए आजाद हैं, जबकि लड़कों को यहां पर्दे में रहना होता है। इस जनजाति का नाम है तुआरेग।

इस जनजाति की महिलाओं को शादी से पहले कई मर्दो से संबंध बनाने की इजाजत होती है। वहीं वे अपनी मर्जी के मर्द से शादी भी रचा सकती हैं। इतना ही नहीं शादी के बाद भी वे किसी भी गैर मर्द से संबंध बना सकती हैं। वहीं लड़कों को यहां अपना चेहरा ढक कर रखना पड़ता है। तुआगो जनजाति की महिलाएं जब चाहें अपने पति को हमेशा के लिए छोड़ सकती हैं और ऐसा करने पर लड़की के घरवाले जश्न भी मनाते हैं।

यही नहीं तलाक होने पर महिलाओं को चाहिए होता है वे मांग लेती हैं और लड़के को वो सब देना पड़ता है। यहां की महिलाएं किसी तरह का कोई पर्दा नहीं रखतीं, वहीं बड़े बड़े फैसले भी उनकी इजाजत के बिना नहीं लिए जा सकते।

Leave A Reply

Your email address will not be published.