शनिवार को करे ये आसान से टोटके ! एक शनिवार जो खत्म कर देगा आपके सारे दुःख दर्द

shanivar ke totke in hindi – हिंदू धर्म में कष्टों से मुक्ति पाने के लिए सूर्य पुत्र शनिदेव की पूजा की जाती है। (शनिवार के टोटके) यदि किसी की राशि में शनि की साढ़ेसाती चल रही हैं तो शनि को प्रसन्न करने के लिए शास्त्र में कई उपाय बताए गए हैं। (Saturday ke totke in hindi) शास्त्रों में शनिदेव को व्यक्ति के भाग्य संवारने वाला माना गया है। इस लेख में आपको बताएंगे ऐसे टोटके जिनको करने से आप अपनी मनोकामना पूरी कर सकते है।

शनि की साढ़ेसाती और ढय्या या अन्य कोई शनि दोष हो तो प्रत्येक शनिवार को किसी भी पीपल के पेड़ के नीचे दोनों हाथों से स्पर्श करें। स्पर्श करने के साथ पीपल के पेड़ की सात परिक्रमा करें और ‘ऊं शं शनैश्चराय नम:’ का जप करें।

शनि को मनाने के लिए हनुमान जी की पूजा करना भी अच्छा उपाय है। प्रत्येक मंगलवार और शनिवार को हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान जी के दर्शन और उनकी भक्ति करने से शनि के सभी दोष समाप्त होते हैं। ऐसा करने से आप विपरीत परिस्थिति से आसानी से निकल आते हैं।

शनिवार को शाम (दिन छिपते) के समय पीपल के पेड़ के नीचे चौमुखा दीपक जलाने से धन, वैभव और यश में वृद्धि होती है। नौकरी पेशा व्यक्ति की ऑफिस में स्थिति अच्छी होती है। वहीं व्यापार वाले के बिजनेस में भी वृद्धि होती है।

शनिवार के दिन किसी भी चीज के बुरे फल को दूर करने के लिए काली चीजों जैसे उड़द की दाल, काला कपड़ा, काले तिल और काले चने को किसी गरीब को दान देने से शनिदेव की कृपा बनी रहती है।

शनिवार के दिन काले कुत्तों को सरसों का तेल लगी हुई रोटी खिलौने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं। शनिवार को काले कुत्ते, काली गाय को रोटी और काली चिडिया को दाने डालने से जीवन की रुकावटें दूर होती है। शनिदेव के प्रसन्न होने से जीवन में खुशहाली बनी रहती है। शनिवार के दिन काले वस्त्र धारण करने से जीवन की बाधाएं दूर होती हैं और उस दिन होने वाले काम में सफलता मिलती है।

उड़द की दाल के 4 बड़े शनिवार को सिर से 3 बार उलटा घुमाकर कौओं को खिलाएं।

काले घोड़े की पिछले दायें पैर की नाल लेकर शनिवार को ही अपने घर के प्रवेश द्वार पर U इस आकार में लगाएं।

शनिवार की शाम को चीटियों को आटा खिलाते हैं और मछलियों को दाना डालते हैं तो आपका भाग्य खुल जाता है।

काली चीजों जैसे उड़द की दाल, काला कपड़ा, काले तिल और काले चने को किसी गरीब को शनिवार की शाम को दान देने से शनिदेव की कृपा बनी रहती है।

शनिवार की शाम को आप हनुमानचालीसा का 11 पाठ करें ।

आप अपने वज़न के बराबर कच्चा कोयला लेकर जल प्रवाह कर दें।

प्रत्येक शनिवार को शनि को तेल चढायें किसी सुहागिन को सुहाग का सामान दान करें। सुहाग का सामान जैसे चूड़ियां, लाल साड़ी, कुमकुम आदि।

अपनी पहनी हुई एक जोडी चप्पल किसी गरीब को एक बार दान करें।

काला कम्बल और सूखा नारियल किसी गरीब को दान दें।

शनिवार के दिन सुबह नित्य कर्म व स्नान आदि करने के बाद अपनी लंबाई के अनुसार काला धागा लें और इसे एक नारियल पर लपेट लें। इसका पूजन करें और उसको नदी के बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें।

सात शनिवार को किसी नदी में नारियल प्रवाहित करें। नारियल प्रवाहित करते हुए “ऊँ रामदूताय नमः” का जप करें।

शनिवार के दिन नारियल को काले कपड़े में लपेटें। 100gm काले तिल, 100gm उड़द की दाल तथा एक कील के साथ उसे बहते हुए जल में प्रवाहित करें।

सुबह जल्दी उठें और पानी में गंगाजल डालकर स्नान करें। सभी तीर्थों का ध्यान करें। नहाने के बाद किसी ऐसे मंदिर जाएं, जहां पीपल हो। पीपल को जल चढ़ाएं। सात परिक्रमा करें। शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढ़ाएं और काले तिल चढ़ाएं। ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें।

हनुमानजी के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाएं। दीपक जलाकर हनुमान चालीसा का पाठ करें।

किसी गरीब को काले छाते का और जूते-चप्पल का दान करें। सवा-सवा किलो काले तिल और काली उड़द का दान करें। शनि, राहु-केतु के लिए काले कंबल या काले कपड़े का दान करें।

भगवान विष्णु के सामने दीपक जलाएं और विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें। केले का भोग लगाएं। महालक्ष्मी और विष्णुजी की पूजा करें। पूजा में दक्षिणावर्ती शंख से केसर वाला दूध लक्ष्मी-विष्णुजी को चढ़ाएं।

शनिवार की रात में रक्त चंदन से अनार की कलम से ‘ऊं हृीं’ को भोजपत्र पर लिखकर नित्य पूजा करने से विद्या और बुद्धि की प्राप्ति होती है। यह टोटका पढ़ाई करने वाले बच्चों के लिए सबसे फायदेमंद होता है।

शनिवार को काले कुत्ते, काली गाय को रोटी और काली चिड़िया को दाना डालने से जीवन की रुकावटें दूर होती हैं। यह भी मान्यता है कि शनिवार को तेल से बने पदार्थ भिखारी को खिलाने से शनिदेव प्रसन्न होते

किसी भी एक शनिवार को शाम के वक्त अपनी लंबाई के बराबर लाल रेशमी धागा नाप लें। अब इसे जल से धोकर आम के पत्ते पर लपेट दे। इस पत्ते और लपेटे हुए रेशमी धागे को अपनी मनोकामना का ध्यान करते हुए बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। इसे मनोकामना पूर्ति होती है। लाल रेशमी धागा लें और उसको अपनी लम्बाई के बराबर का काट लें, उसको धोकर आम के पत्ते लपेट लें. उसके बाद ‘ॐ नमः शिवाय’ का जाप करते हुए साफ़ नदी के बहते पानी में प्रवाहित कर दें

सोमवार के टोटके | Monday ke Totke | somvar ke upay | somwar ke totke

मंगलवार के टोटके | Tuesday ke Totke | mangalvar ke upay | mangalwar ke totke

बुधवार के टोटके | Wednesday ke Totke | budhvar ke upay | budhwar ke totke

गुरुवार के टोटके | Thursday ke Totke | guruvar ke upay | guruwar ke totke

शुक्रवार के टोटके | Friday ke Totke | shakravar ke upay | shakrawar ke totke

शनिवार के टोटके | Saturday ke Totke | shanivar ke upay | shaniwar ke totke

रविवार के टोटके | Sunday ke Totke | ravivar ke upay | raviwar ke totke

Loading...

You might also like