News in Hindi

चोटी कटने का सिलसिला जारी, नहीं सुलझ रहा रहस्य, लोगों में दहशत

पिछले दिनों राजस्थान के कुछ जिलों महिलाओं की चोटी काटने की कई घटनाएं सामने आई थीं। राजस्थान पुलिस ने कई दिनों की मुशक्कत के बाद इस गुत्थी को यह कहते हुए सुलझाने का दावा किया था कि यहां महिलाएं खुद ही अपनी चोटी काट रही हैं और बाद में इस तरह अफवाहें फैला रही हैं। अब देश के पांच अन्य राज्यों में भी चोटी कटने की घटनाएं सामने आ रही हैं। अब तक करीब 100 से ज्यादा ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं। दिल्ली एनसीआर में गुरुवार रात एक और चोटी कटने की वारदात सामने आई।

इसी तरह गाजियाबाद के लोनी इलाके में 11 साल की लड़की की चोटी कट गई। लड़की का दावा है कि एक बिल्ली ने उसकी चोटी काट दी। 11 साल की मुस्कान गुरुवार रात हुई इस घटना के बाद से काफी सहमी हुई है। यह घटना गुरुवार रात करीब साढ़े नौ बजे की है। उस समय मुसकान सो रही थी जब उसकी चोटी कट गई। बच्ची का दावा है कि एक काली बिल्ली ने उसकी चोटी काट दी। लोनी में पिछले दो दिनों में यह दूसरी घटना है। इससे पहले बुधवार को भी एक महिला की चोटी कटने की घटना सामने आई थी।

उधर हरियाणा में भी चोट कटने की करीब 30 घटनाएं अब तक सामने आ चुकी हैं। करनाल जिले में नौंवी कक्षा की एक छात्रा की बुधवार रात सोते वक्त चोटी कट गई। हालांकि इस छात्रा को इस बात की जानकारी नहीं है कि उसकी चोटी आखिर काटी किसने। गांव के सरपंच इसे गांव के ही किसी व्यक्ति की शरारत मान रहे हैं। उधन प्रशासन भी लोगों को ऐसी अफवाहों से बचने की अपील कर रहा है।

फरीदाबाद में भी गुुरुवार को चोटी कटने की एक और घटना सामने आई। शोभा कौर नाम की महिला फरीदाबाद के एनआईटी 3 इलाके में जिस कंपनी में काम करती थी वहीं उसकी चोटी कट गई। शाम करीब 4 बजे शोभा शौचालय गई तभी लाइट चली गई। शोभा का दावा है कि उसी दौरान किसी ने उसे चोटी काट दी। उधर इलाहबाद में भी ऐसे कुछ मामले सामने आए हैं। गुरुवार को ही इलाहबाद के फूलपुर में चोटी कटने के तीन मामले सामने आए। इसमें दो छात्राएं हैं। यह तीनों घटनाएं तब हुई जब महिलाएं घर के बाहर सो रही थीं। फूलपुर पुलिस भी इस घटना की जांच कर रही है। पुलिस का दावा है कि कोई शरारती तत्व दहशत फैलाने के लिए ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।