News in Hindi

हर बार पीरियड मिस होने का मतलब प्रेग्नेंसी नहीं होता, यह भी होते हैं कारण

आमतौर पर यह धारणा होती है कि अगर किसी महिला के ​Periods मिस होते हैं, तो वह प्रेग्नेंट हो सकती है। हालांकि यह एक वजह हो सकती है, लेकिन जरूरी नहीं है कि हर बार Periods मिस होने की वजह Pregnancy ही हो। इस बारे में हर महिला को जानकारी होनी चाहिए कि Periods और किन किन वजहों से मिस हो सकते हैं। कई बार इन बातों की जानकरी न होना किसी बड़ी मुसीबत को दावत दे सकता है।

मासिक धर्म यानी कि Periods महिलाओं मेें होने वाली सामान्य प्रक्रिया है। यह बताता है कि अब एक लड़की गर्भधारण कर सकती है, हालांकि लड़की की गर्भधारण करने की सही उम्र 18 वर्ष या इससे ज्यादा ही होती है। Periods हर महीने सही समय पर आना हर महिला के लिए जरूरी है। पीरियड का अनियमित होना कई महिलाओं की समस्या होती है। यहां जानें Periods किन किन वजहों से मिस होते हैं।

Periods
Periods

 

बर्थ कंट्रोल पिल

अगर आप ​बर्थ कंट्रोल पिल्स ले रही हैं, तब भी पीरियड्स मिस हो सकते हैं। गर्भनिरोधक दवाओं के सेवन की वजह से शरीर में हार्मोनल डिसबैलेंस होने लगता है जिसकी वजह से पीरियड्स मिस होते हैं।
थायरॉइड

गले में मौजूद थायरॉयड ग्लैंड के कम सक्रिय या अधिक सक्रिय होने से शरीर में हार्मोन्स का संतुलन बिगड़ जाता है। इसकी वजह से भी पीरियड्स मिस हो सकते हैं।

डायबिटीज

अगर आपको डायबिटीज है, तो आपके शरीर में ब्लड शुगर का लेवल कम या ज्यादा होने पर भी शरीर में हार्मोनल असंतुलन हो जाता है। इस कारण भी पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं।

बढ़ती उम्र

उम्र बढ़ने के साथ पीरियड्स अनियमित होने लगते हैं और फिर एक समय आने पर अपने आप बंद भी हो जाते हैं। महिलाओं की उम्र 40 के पार हो जाने के बाद कुछ परेशानियां हो सकती हैं जिसके कारण पीरियड्स मिस हो सकते हैं।

बढ़ता वजन

महिलाओं का वजन भी पीरियड्स पर असर डालता है। मोटापा हमारे दिमाग की ग्रंथियों पर बुरा प्रभाव डालता है। इसकी वजह से शरीर में हार्मोन्स का असंतुलन हो जाता है और पीरियड्स मिस हो सकते हैं।

तनाव

लगातार तनाव में रहने के कारण भी बॉडी में एस्ट्रोजेन और कॉर्टिसोल नामक हार्मोन रिलीज होने लगते हैं। इस कारण पीरियड्स मिस हो जाते हैं।

जरूरत से ज्यादा व्यायाम

व्यायाम शरीर के लिए जरूरी है, लेकिन जरूरत से ज्यादा व्यायाम करने से शरीर में पर्याप्त मात्रा में एस्ट्रोजेन हार्मोन रिलीज नहीं हो पात, जिसकी वजह से पीरियड्स मिस या लेट हो सकते हैं।