News in Hindi

महिलाएं इसलिए नहीं खाना चाहती गर्भनिरोधक गोलियां

अनचाही प्रेग्नेंसी को रोकने के लिए एक तरीका गर्भनिरोधक गोलियां भी है। हालांकि ज्यादातर महिलाएं इससे परहेज करना पसंद करती हैं। इसके पीछे की वजह भी स्पष्ट है। कोई भी महिला नहीं चाहती कि वह कभी भी मोटी दिखे। पतले रहने के लिए महिलाएं क्या कुछ नहीं करतीं। उनमें से एक तरीका है कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स से दूरी बनाना। पैन स्टेट कॉलेज ऑफ मेडिसिन की एक रिसर्च में भी यह पाया गया है कि महिलाएं वजन बढऩे के डर से ही गर्भनिरोधक गोलियां खाना पसंद नहीं करतीं।

इस शोध के अनुसार महिलाएं मोटे होने के डर से ही गर्भनिरोधक गोलियां नहीं खाना चाहतीं। इन गोलियों को खाने से महिलाओं के अंदर इसके साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते हैं। अक्सर जो महिलाएं इन गोलियों का सेवन करती हैं उनका मूड खराब रहता है, वो चिड़चिड़ेपन और गुस्से की शिकार रहती हैं।

यह सारी बातें इस शोध में सामने आई हैं। इस शोध में 18 से 40 साल के बीच की महिलाओं पर किया गया। इन महिलाओं ने गर्भनिरोधक गोलियों की जगह लॉन्ग लास्टिंग मैथड्स जैसे कि इंट्रयूटरिन डिवास का चुनाव किया है।