नई दिल्लीः बहुत पुरानी कहावत है कि लहरों से डरकर नोका पार नहीं होती और कोशिश करने वालों की हार नहीं होती। खेल हो या राजनीतिक हो या फिर कुछ और हो। हर जगह जबरदस्त कोशिश अपना अलग ही रंग दिखाती है। हम आपको क्रिकेट के मैदान पर की गई कोशिश के बारे में बताने जा रहे हैं।

अगर कोई फिल्डर 50 मीटर की दौड़ लगाकर चौका बचा ले तो आपको बात पचेगी नहीं, लेकिन यह सौ फीसदी सच है। यह वाकया पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए मुकाबले में देखने को मिला है। शनिवार को को फिल्डर और गेंद के बीच यह 50 मीटर का अंतर देखने को मिला। खिलाड़ी की कोशिश के सामने गेंद की हार हुई। यह कारनामा डेवॉन कॉनवे ने कर दिखाया है।

Ind vs Sa: मैच से पहले भारत को लगा बड़ा झटका, दिग्गज खिलाड़ी चोट के चलते हुआ बाहर

दरअसल न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के बीच ट्राई सीरीज टी 20 खेली जा रही है, जिसे लेकर सभी खिलाड़ी अपनी-अपनी कोशिशों में लगे हुए हैं। इस दौरान डेवॉन कॉनवे ने चौका बचाने के लिए ताकत लगा दी है। वह करीब 50 मीटर तक दौड़े और चौका बचाया. पाकिस्तान की पारी के 12वें ओवर में ये नजारा देखने को मिला।

शादाब खान ने टिम साउदी के ओवर की चौथी गेंद को विकेटकीपर कॉनवे के सिर के ऊपर से स्कूप शॉट खेला था। कॉनवे ने जबरदस्त दौड़ लगाकर 50 मीटर की दौड़ लगाई और चौका बचा लिया।


Latest News