नई दिल्लीः अब नया साल आने वाले है, जिसे लेकर सभी ने अपनी-अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। हर कोई चाहता है कि नये साल पर भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए नए-नए संकल्प लें। वैसे भी नया साल नई उम्मीद लेकर आता है। इस बार हैप्पी न्यू नयर केंद्रीय कर्मचारियों के लिए कुछ ज्यादा ही खास होने वाला है। मोदी सरकार इस बार केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के साथ-साथ 18 महीने का डीए एरियर देने का फैसला लेने जा रही है, जिसे लेकर हर किसी के चेहरे पर अभी से जोश और जुनून देखने को मिल रहा है।

सरकार इस बार भी करीब 4 प्रतिशत डीए बढ़ाएगी, जिससे सैलरी में बंपर इजाफा होना तय माना जा रहा है। डीए में अगर 4 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो फिर यह 42 प्रतिशत हो जाएगा। वर्तमान में केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों को 38 प्रतिशत डीए का फायदा मिल रहा है। सरकार ने वैसे आधिकारिक तौर पर तो ऐसा कोई निर्देश नहीं दिया है, लेकिन मीडिया की खबरों में यह बड़ा दावा किया जा राह है।

  • जानिए कब बढ़ेगा महंगाई भत्ता

नए आदेशानुसार केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनधारकों को वर्तमान में 38 प्रतिशत डीए का लाभ मिल रहा है, जिससे हर कोई मालामाल हो रहे हैं। इसका फायदा करीब सवा करोड़ लोगों को मिल रहा है। अब फिर सरकार डीए में करीब 4 प्रतिशत की बढ़ोतरी करने जा रही है। माना जा रहा है कि मोदी सरकार यह चौंकाने वाला फैसला जनवरी 2023 में ले सकती है। अगर सरकार यह इजाफा करती है तो फिर डीए 42 फीसदी हो जाएगा, जिसके बाद बेसिक सैलरी में बढ़ोतरी होना तय माना जा रहा है।

  • इतने रुपये बढ़ जाएगी सैलरी

केंद्रीय कर्मचारी और पेंशनधारकों के लिए हर 6 महीने में डीए को लेकर बड़ा ऐलान किया जाता है। 7वें वेतन आयोग के तहत इसमें एक शर्त तय की गई हैं। शर्त ये है कि जब कर्मचारियों का डीए 50 प्रतिशत को पार करेगा तो इसे बेसिक सैलरी में जोड़ दिया जाएगा। महंगाई भत्ते यानि DA को शून्य कर घोषित किया जाएगा।

50 फीसदी होने पर महंगाई भत्ते के रूप में कर्मचारियों को जो पैसा मिल रहा होगा, जिसे उसे बेसिक सैलरी में जोड़ दिया जाएगा। कर्मचारी की न्यूनतम बेसिक सैलरी 18000 रुये है। मान लीजिए DA बढ़कर 50 प्रतिशत पहुंच जाता है तो कर्मचारी को भत्ते के रूप में 9000 रुपये मिलना तया हैं। इसके बाद सैलरी 27,000 रुपये हो जाएगी।


Latest News