Virat Kohli left the captaincy of the Test team, tweeted this big reason for leaving the captaincy!

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) में इन दिनों कुछ ठीक नहीं चल रहा है। टीम को हाल में टेस्ट मैच में हार मिली है। तो वही  के कप्तान के तौर पर विराट कोहली (Virat Kohli) के कार्यकाल का पूरी तरह से अंत हो गया है। विराट कोहली (Virat Kohli) के इस कदम उनके फैन्स मायूस है।

हाल ही में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 1-2 से मिली हार के ठीक एक दिन बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट टीम की कप्तानी से भी इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही विराट कोहली (Virat Kohli) अब तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम की कप्तानी से बाहर हो गए हैं। विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में भारतीय टीम ने लगातार टेस्ट क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया और नंबर एक की कुर्सी हासिल की थी। कोहली ने शनिवार 15 जनवरी को ट्विटर पर एक बयान जारी कर अपने फैसले की जानकारी दी और एक बार फिर क्रिकेट जगत को चौंका दिया। कोहली ने अपने बयान में कहा कि हर अच्छी चीज का एक अंत होता है और उनके लिए ये अंत आज है।

विराट कोहली (Virat Kohli) ने जिस तरह से पिछले साल सितंबर में एक बयान जारी कर अचानक टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया था, उसी तरह एक लंबा बयान अपने अकाउंट पर पोस्ट कर टेस्ट की कप्तानी से भी छुट्टी ली। अपने बयान में विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा, “पिछले 7 साल से कड़ी मेहनत, संघर्ष और हर दिन लगातार जूझते हुए टीम को सही दिशा में ले जाने के लिए काम किया है। मैंने अपना काम एकदम ईमानदारी से किया और कुछ भी कमी नहीं छोड़ी। हर चीज के थमने का एक वक्त आता है और मेरे लिए भारत के टेस्ट कप्तान के रूप में ये वक्त अभी है।”

मेरा दिल साफ, टीम से नहीं कर सकता बेईमानी

विराट कोहली (Virat Kohli) ने इसके साथ ही कहा कि उन्होंने कई उतार-चढ़ाव देखे लेकिन हमेशा अपना 120 फीसदी मैदान पर दिया। पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा,

“इस सफर में कई उतार-चढ़ाव रहे, लेकिन कभी भी प्रयास या यकीन की कमी नहीं रही। मैंने हमेशा ही अपने हर काम में 120 फीसदी देने पर भरोसा रखा है और अगर मैं ये नहीं कर सकता, तो मैं जानता हूं कि ये सही नहीं है। मेरा दिल एकदम साफ है और मैं अपनी टीम के साथ बेईमानी नहीं कर सकता।”

BCCI और साथी खिलाड़ियों पर बोले कोहली

विराट ने इसके साथ ही बीसीसीआई अधिकारियों और अपने साथी खिलाड़ियों को भी लंबे सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। कोहली ने कहा, “मैं बीसीसीआई को धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने इतने लंबे वक्त तक मुझे अपने देश का नेतृत्व करने का अवसर दिया और सबसे ज्यादा धन्यवाद अपने साथियों को देना चाहता हूं, जिन्होंने पहले दिन से ही इस टीम के लिए मेरे नजरिए को अपनाया और किसी भी परिस्थिति में हार नहीं मानी। तुम लोगों ने इस यात्रा को बेहद यादगार और खूबसूरत बनाया।”

विराट कोहली (Virat Kohli) ने पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री   को दिया धन्यवाद

कोहली ने साथ ही पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री को भी खास धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, “रवि भाई और सपोर्ट ग्रुप, जो इस गाड़ी के पीछे के इंजन थे और जिसने टेस्ट क्रिकेट में हमें ऊपर की ओर बढ़ाया, आप सबने मेरी जिंदगी में इस विजन को लाने में बेहद अहम भूमिका निभाई।”

विराट कोहली (Virat Kohli) ने धोनी को भी किया याद

कोहली ने अपने बयान का अंत उस दिग्गज को याद करते हुए किया, जिसकी जगह 7 साल पहले उन्होंने ली थी। पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के बारे में बोलते हुए कोहली ने कहा, “अंत में, सबसे बड़ा शुक्रिया एमएस धोनी को, जिन्होंने मुझ पर एक कप्तान के रूप में भरोसा किया और मुझमें वो काबिल शख्स देखा जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सकता था।”

जरूर पढ़ें: शादी से पहले बनी मां, इन एक्ट्रेस की लिस्ट को देख उड़ जायेंगे होश

Recent Posts