Rbi news: बैंक खाते में अधिकतम पैसे रखने की सीमा, जानिए RBI के नियम

Avatar photo

By

Govind

Rbi news: देश में अधिकतर लोगों के पास बैंक खाता है। लोगों की अधिकांश आर्थिक गतिविधियाँ इन्हीं बैंक खातों के माध्यम से संचालित होती हैं। इनमें से ज्यादातर लोगों को खाते के मिनिमम बैलेंस के बारे में पता होता है. लेकिन, इसके अलावा भी बैंक खाते से जुड़े दर्जनों नियम हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए। खाते में नकदी जमा करने की अधिकतम सीमा, एटीएम-डेबिट कार्ड के लिए शुल्क, चेक के लिए शुल्क… आदि कई चीजें हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इन सभी चीजों के संबंध में विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए हैं।

खाते में रखी जा सकने वाली अधिकतम राशि पर आने से पहले हम आपको बताना चाहते हैं कि हर स्थिति में आपको अपने खाते में एक न्यूनतम राशि रखनी होगी। न्यूनतम राशि न होने पर बैंक पेनाल्टी चार्ज काट लेता है. विभिन्न बैंकों ने अपनी-अपनी न्यूनतम बैलेंस सीमा निर्धारित की है। कुछ मामलों में न्यूनतम बैलेंस सीमा 1,000 रुपये है तो कुछ में 10,000 रुपये है.

Top 5 Phone: India’s most popular and best-selling smartphone, the cheapest mobile, is Rs 8,999.

 

boAt Storm Call 3: Affordable Smartwatch Packed with Premium Features

नकद जमा सीमा

इन बचत खातों में नकद पैसा जमा करने की भी एक सीमा होती है. आयकर नियमों के मुताबिक, एक व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अपने बचत खाते में अधिकतम 10 लाख रुपये नकद जमा कर सकता है. इससे ज्यादा कैश जमा करने पर बैंकों को उस ट्रांजेक्शन की जानकारी आयकर विभाग को देनी होती है. इसके साथ ही जब आप अपने खाते में 50 हजार रुपये या इससे ज्यादा कैश जमा करेंगे तो आपको इसके साथ पैन नंबर भी देना होगा. आप एक दिन में 1 लाख रुपये तक कैश जमा कर सकते हैं. साथ ही अगर आप नियमित रूप से अपने खाते में कैश जमा नहीं करते हैं तो यह सीमा 2.50 लाख रुपये तक जा सकती है.

अगर आप अपने खाते में 10 लाख रुपये की सीमा से अधिक नकदी जमा करते हैं और आयकर रिटर्न में इसके स्रोत के बारे में संतोषजनक जानकारी नहीं देते हैं, तो जांच संभव है। अगर आप इस जांच में पकड़े गए तो आप पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा. अगर आप आय का स्रोत नहीं बताते हैं तो जमा राशि पर 60 फीसदी टैक्स, 25 फीसदी सरचार्ज और 4 फीसदी सेस लग सकता है.

अब मुद्दे पर आते हैं. दरअसल, हम सभी अपनी कमाई को सुरक्षित रखने के लिए सेविंग अकाउंट में पैसे जमा करते हैं। ऐसे में इसकी अधिकतम सीमा तय नहीं है. लेकिन, यह तय है कि अगर आप खाते में ज्यादा पैसा रखते हैं और उसके आने का स्रोत नहीं बताते हैं तो संभव है कि वह आयकर विभाग की जांच के दायरे में आ सकता है। यदि आमद का स्रोत स्पष्ट है तो आपको डरने की जरूरत नहीं है।

Govind के बारे में
Avatar photo
Govind नमस्कार मेरा नाम गोविंद है,में रेवाड़ी हरियाणा से हूं, मैं 2024 से Timesbull पर बतौर कंटेंट राइटर के पद पर काम कर रहा हूं,मैं रोजाना सरकारी नौकरी और योजना न्यूज लोगों तक पहुंचाता हूँ. Read More
For Feedback - timesbull@gmail.com
Share.
Install App