पैसे की थी किल्लत, तो सपना पूरा करने के लिए E-Rikshaw को बनाया Car

Avatar photo

By

Saurav Kumar

Convert E-Rikshaw to Car: भारत में हर कोई चाहता है कि उसके पास एक घर और कार हो। खासकर कार खरीदने का सपना हर एक आम आदमी देखता है। लेकिन पैसे की किल्लत के कारण वह अपना सपना पूरा नहीं कर पाता।

लेकिन कहते हैं कि अगर आपके पास हुनर है तो कोई भी सपना साकार हो सकता है और आज इस ई रिक्शा चालक ने अपने हुनर से ही अपना सपना साकार कर लिया है।

Top 5 Phone: India’s most popular and best-selling smartphone, the cheapest mobile, is Rs 8,999.

 

boAt Storm Call 3: Affordable Smartwatch Packed with Premium Features

E-Rikshaw को बनाया Car

पश्चिम बंगाल के शांतिपुर बाद के रहने वाले उत्तम दास एक ई रिक्शा चालक है। उन्होंने कार खरीदने का सपना देखा था। लेकिन पैसे ना होने के कारण वह इसे नहीं खरीद पाए। बाद में उन्होंने कबाड़ से एक ऐसी कार बना दी है जिसका चर्चा सिर्फ शहर ही नहीं बल्कि पूरे देश में हो रहा है।

ई रिक्शा ड्राइवर उत्तम दास ने मीडिया को बताया है कि वह पिछले कई सालों से रिक्शा चला रहे हैं और वह चाहते थे कि उनके पास एक कार हो। हालांकि आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण वह कार नहीं खरीद पा रहे थे।

किए ढेर सारे बदलाव

बाद में उनका ख्याल आया कि वह अपने इलेक्ट्रिक रिक्शा को ही कार में बदल सकते हैं। हालांकि तीन पहियों वाली इस इलेक्ट्रिक रिक्शा को चार पहिए की कार में बदलने में काफी मुश्किलें आई। लेकिन वह हार नहीं माने और इस इलेक्ट्रिक कार को बनाया। इसमें उन्होंने हैंडल को हटा दो स्पोक वाली स्टीयरिंग व्हील को लगाया और कई जगह वेल्डिंग की।

इस इलेक्ट्रिक रिक्शा को कर में बदलने में उन्हें पूरे 2 साल लग गए। इस दौरान उन्होंने कई तरह के डिजाइन बनाए और उसमें कई बदलाव किए। बाद में उन्हें मारुति वैन का ख्याल आया और उन्होंने इसी के तर्ज पर इस डिजाइन कर दिया।

कार देख लोग लेते है सेल्फी

इस कार की अच्छी बात यह है कि यह एक इलेक्ट्रिक कार है जिसके कारण इससे पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। इसके स्पेयर पार्ट्स और बॉडी पैनल को मोटे टिन से बनाया गया है। यह दिखने में छोटा मारुति कार की तरह लगती है जिससे आप एक जगह से दूसरी जगह आराम से जा सकते हैं।

पूरे शांतिपुर में इसका के चर्चे हैं। लोग इसमें बैठकर सेल्फी लेते हैं और उसे शौक से सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं। उत्तम दास की इस सफलता से हम सीख सकते हैं कि कैसे भी स्थिति में हम अपनी मेहनत के बदौलत कुछ भी कर सकते हैं।

Saurav Kumar के बारे में
Avatar photo
Saurav Kumar राजनीतिक विज्ञान में स्नातकोत्तर सौरभ कुमार साल 2022 से टाइम्सबुल से जुड़े है। इन्होंने अपने करियर की शुरुआत यहीं से की है और यहां ऑटोमोबाइल की खबरें लिखते है। अगर आपको खबर से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या हो तो timesbull@gmail.com पर संपर्क करें। Read More
For Feedback - timesbull@gmail.com
Share.
Install App