HomeबिजनेसPost Office छप्परफाड़ कमाई वाली स्कीम! सिर्फ थोड़ा-थोड़ा करें निवेश और रकम...

Post Office छप्परफाड़ कमाई वाली स्कीम! सिर्फ थोड़ा-थोड़ा करें निवेश और रकम पर पाएं 14.55 लाख रुपये सिर्फ ब्याज

नई दिल्ली: Post Office Scheme: पोस्ट ऑफिस की स्कीम आज के समय निवेश को लेकर काफी लोकप्रिय हैं। ऐसे ही म्यूचुअल फंड SIP एक ऐसा निवेश का तरीका है, जिसमें पैसा लंबे समय में बढ़ता है। इसमें निवेश चाहे छोटा हो या बड़ा कोई फर्क नहीं पड़ता। इस स्कीम में इस तरह से कम्पाउंड इंट्रस्ट मिलता है, जिससे कि पैसा दिन दूनी रात चौगुनी बढ़ता है। पर SIP बाजार जोखिमों के अधीन होता है। ऐसे में सुरक्षित निवेश के लिए सरकारी स्कीम में पैसा लगाना चाहिए। इनमें भी SIP की तरह ही निवेश कर सकते हैं, बस इसके लिए आपको प्लानिंग करनी होगी। पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) पोस्ट ऑफिस की इसी तरह की स्कीम है। इसमें लंबे समय में बड़ा मिलता है।

जानिए PPF के बारे में

PPF में मेच्योरिटी की अवधि 15 साल होती है। इसमें 1 साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपये निवेश किए जा सकते हैं। इस स्कीम की सबसे अच्छी बात यह है कि इसमें भी सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) जैसे हर महीने निवेश किया जा सकता है। PPF में सालाना ब्याज FD या RD से ज्यादा ही मिलता है। इसमें थोड़ा-थोड़ा निवेश करके भविष्य के लिए अच्छा-खासा बड़ा फंड बना सकते हैं। इसमें जो ब्याज और मेच्योरिटी की रकम मिलती है उसपर ब्याज नहीं मिलता है।

आइए PPF से कैलकुलेटर से समझते हैं…

PPF Calculator: निवेश 5000 रुपये/महीना

हर महीने जमा: 5000 रुपये

साल में कुल जमा: 60,000 ररुपये

ब्याज दर: 7.1 फीसदी सालाना कंपांउंडिंग

15 साल बाद मेच्योरिटी पर रकम: 16.25 लाख रुपये

कुल निवेश: 9 लाख रुपये

ब्याज का फायदा: 7.25 लाख रुपये

PPF Calculator: निवेश 10,000 रुपये/महीना

हर महीने जमा: 10,000 रुपये

साल में कुल जमा: 1,20,000 रुपये

ब्याज दर: 7.1 फीसदी सालाना कंपांउंडिंग

15 साल बाद मेच्योरिटी पर रकम: 32.55 लाख रुपये

कुल निवेश: 18 लाख रुपये

ब्याज का फायदा: 14.55 लाख रुपये

PPF की के फायदे या खासियत

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) में एक फाइनेंशियल ईयर में अधिकतम 1.50 लाख रुपये निवेश किया जा सकता है।

इसमें अधिकतम निवेश 12 इंस्टालमेंट में कर सकते हैं।

इसमें कम से कम 500 रुपये निवेश करना जरूरी है।

PPF में सालाना ब्याज 7.1 फीसदी मिलता है। हालांकि ब्याज की समीक्षा तिमाही आधार पर की जाती है।

आप 10 साल से कम उम्र के बच्चे के नाम पर भी PPF खाता खोल सकते हैं। जब तक वह 18 साल का नहीं हो जाता तब तक माता पिता खाते की देख-रेख करते हैं।

इस स्कीम की मेच्योरिटी अवधि 15 साल की होती है। पर इसे मेच्योरिटी के बाद भी 5-5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।

यह सरकारी स्कीम है, जिसकी वजह से सब्सक्राइबर्स के लिए इसमें निवेश करना पूरी तरह से सुरक्षित है। जो ब्याज मिलता है उसपर सॉवरेन गारंटी मिलती है।

सब्सक्राइबर्स को PPF अकाउंट पर सस्ती ब्याज दर पर लोन लेने की सुविधा दी जाती है। लोन का फायदा खाता खोलने के 3 और 6 साल में लिया जा सकता है।

टैक्स छूट का फायदा

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) अकाउंट पर आईटी एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स बेनेफिट दिया जाता है। इस स्कीम में निवेश की रकम पर 1.5 लाख रुपये तक का डिडक्शन ले सकते हैं।  PPF में ब्याज और मेच्योरिटी की रकम दोनों पर टैक्स छूट मिलती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular