नई दिल्ली: इस समय  मार्केट में पुराने जमाने के नोट और सिक्के बेचने का चलन है। वही इसमें कई लोग फ्रॉड का  शिकार हो रहे हैं। इस की ध्यान में रखते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक लोगों के लिए बड़ा अलर्ट जारी किया है।  वहीं ऐसी भी खबरें आती रहती है कि लोग फ्रॉड का शिकार हो रहे हैं। इस मामले को देखते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक ने अलर्ट जारी किया है, जो आपको जरूर जाना चाहिए और सावधान हो जाना चाहिए। कई लोग इस जाल में फंस सकते हैं। तो चलिए यहां पर भारतीय रिज़र्व बैंक के द्धारा जारी अलर्ट के डीटल्स में बताते हैं।

ये भी पढ़ें- REET Result 2022: जारी हुआ रीट परीक्षा का संशोधित रिजल्ट, इस डायरेक्ट लिंक से करें चेक

Honda की 125 cc इंजन वाली बाइक घर लाएं सिर्फ 16,000 में, ऐसे मिलेगी यह ब्रांड न्यू कंडीशन गाड़ी

दरअसल आप को बता दें कि  पहले जमाने के दुर्लभ नोट और सिक्कों को ऑनलाइन सेल किया जा रहा है। जिससे लोग लाखों कमाई करने का दावा कर रहे हैं।  RBI का कहना है कि कुछ धोखाधड़ी करने वाले कुछ तत्व ऑनलाइन, ऑफलाइन प्लेटफॉर्म पर पुराने बैंक नोट और सिक्कों की बिक्री के लिए केंद्रीय बैंक के नाम और लोगो का इस्तेमाल कर रहे हैं।

यदि आप भी पुराने सिक्के और नोट (coins and notes Sell) बेचने या खरीदने की तैयारी कर रहे हैं तो पहले आरबीआई की तरफ से दी गई ये जानकारी जरूर देख लें। नही तो लाखों कमाने के चक्कर में किसी फ्रॉड का शिकार हो जाए। बता दें कि ऑफलाइन से लेकर ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले लोग लगातार ग्राहकों को चूना लगाने की फिराक में रहते हैं। इसके लिए वो रोजाना नए नए तरीके इजात करते हैं।

जानिए RBI ने ट्वीट कर क्या कहा

भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट जारी कर कहा, भारतीय रिजर्व बैंक के संज्ञान में यह बात सामने आई है कि कुछ तत्व गलत तरीके से भारतीय रिजर्व बैंक के नाम और लोगो का इस्तेमाल कर रहे हैं और विभिन्न ऑनलाइन, ऑफलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए पुराने बैंक नोट और सिक्कों को बेचने के लिए लोगों से शुल्क/ कमीशन या टैक्स मांग रहे हैं।’

वही आप को बता दें कि  भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने बयान में कहा है, ‘वह इस तरह की किसी भी गतिविधि में शामिल नहीं है और इस तरह के ट्रांजैक्शन के लिए किसी से कोई शुल्क या कमीशन कभी नहीं मांगेगा। साथ ही बैंक ने कहा है कि उसने किसी संस्था या व्यक्ति को इस तरह की गतिविधियों के लिए किसी तरह का कोई प्राधिकार नहीं दिया है।’

RBI नहीं करता है ये काम

भारतीय रिजर्व बैंक इस तरह के मामलों में डील नहीं करता है और ना ही कभी किसी से इस तरह के शुल्क या कमीशन मांगता है। बैंक ने कहा, ‘RBI ने किसी संस्था, कंपनी या व्यक्ति इत्यादि को इस तरह के ट्रांजैक्शन पर रिजर्व बैंक की ओर से शुल्क या कमीशन लेने के कोई अथॉरिटी नहीं दी है। RBI आम लोगों से इस तरह के जाली और धोखाधड़ी वाले ऑफर्स के झांसे में नहीं आने की सलाह देता है।’


Latest News