नई दिल्ली।Mobile Tower : जैसे हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं। इसी तरह सोशल मीडिया के भी सकारात्मक और नकारात्मक दोनों पहलू हैं। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक खबर काफी वायरल हो रही है, जिसके तहत एक सुनहरा मौका दिया जा रहा है। इसके मुताबिक डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के लिए मोबाइल टावर लगाने की बात कही जा रही है. बताया गया है कि जो व्यक्ति अपने घर पर टावर लगाने की अनुमति देगा, उसे 30 लाख रुपये एडवांस में दिए जाएंगे और सरकार 25000 रुपये हर महीने सैलरी के तौर पर देगी. अब इसके लिए आवेदन के नाम पर लोगों से 740 रुपये लिए जा रहे हैं. आपको बता दें कि यह मामला ऑनलाइन ठगों का है। ठग यह लालच देकर लोगों से मोटी रकम वसूल कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मैसेज में बताया जा रहा है कि डिजिटल इंडिया के तहत मोबाइल में इस्तेमाल होने वाले वाईफाई टावर लगाए जाएंगे. इसके लिए जिस व्यक्ति के घर में टावर होगा, उसे हर महीने 25000 रुपये किराए के रूप में दिए जाएंगे। वहीं कहा जा रहा है कि घर में एक व्यक्ति को 30 लाख रुपये एडवांस और सरकारी नौकरी दी जाएगी.

वहीं, मोबाइल टावर लगाने के इच्छुक लोगों से आवेदन के नाम पर 740 रुपये लिए गए हैं. लोगों से वादा किया गया है कि आवेदन शुल्क मिलने के 96 घंटे के अंदर टावर लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी. पंजाब नेशनल बैंक ने सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस मैसेज की फैक्ट-चेकिंग की तो पता चला कि यह मैसेज फर्जी है। पीएनबी ने कहा कि यह मैसेज पूरी तरह फर्जी है। लोग इसके झांसे में नहीं आए। सरकार ने डिजिटल इंडिया के तहत ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है।

जैसे हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं। इसी तरह सोशल मीडिया के भी सकारात्मक और नकारात्मक दोनों पहलू हैं। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक खबर काफी वायरल हो रही है, जिसके तहत एक सुनहरा मौका दिया जा रहा है।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts