Times Bull
News in Hindi

यहां जानें आखिर तारों पर ही क्यों बैठते हैं पक्षी

पक्षियों की चहचाहट सुबह सुबह दिन बना देती है। आपने भी अपने घर के सामने या आसपास पक्षियों को तारों पर बैठते देखा होगा। क्या आपने कभी सोचा है कि ये पक्षी तारों पर ही क्यों बैठते हैं, जबकि तारों पर बैलेंस बना कर बैठना बेहद कठिन काम होता है। हम आपको इसके पीछे की वजह बताने जा रहे हैं।

कई बार आपने बिजली की तारों पर कई पक्षियों को कतारों में एक साथ बैठे देखा होगा। पक्षियों का संरक्षण करने वाली अमरीकी संस्थान ऑडोबन वरमॉन्ट के मैनेजर मार्क लाबर ने पक्षियों के ऐसा करने के पीछे के कारण को बताया है।

कई शिकारी पक्षी जैसे कि चील या बाज इन तारों पर बैठ कर अपने शिकार की तलाश करते हैं। अगर ये पेड़ों पर बैठ का शिकार ढूंढते तो पेड़ों के पत्तों की वजह से शिकार अच्छे से दिख नहीं पाता।

इसके अलावा कई दूसरे पक्षी मौसमी माइग्रेशन पर जाने से पहले टेलीफोन या अन्य तारों पर इकट्ठा होते हैं। इन्हें आप गर्मी के अंत या सर्दी की शुरुआत में तारों पर लदा हुआ देख सकते हैं।

कई पक्षी अपने सहवास प्रक्रिया के समय तारों पर मिलते हैं। क्योंकि सिंगल पक्षी के लिए एक साथी पाना काफी मुश्किल होता है। खासकर जब उसका मुकाबला करने के लिए कई और पक्षी तैयार बैठे हों। उदाहरण के लिए, गाने वाले नर पक्षी बसंत के मौसम में तारों पर बैठ कर गाना गाते हैं और मादा पक्षी को लुभाने की कोशिश करते हैं। इससे साफ हो जाता है कि पक्षी तारों पर बेवजह नहीं बैठते।

Loading...