नई देल्ली -डेरी प्रोडक्ट की बात करें तो सभी डेरी प्रोडक्ट हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है। दही से लेकर छाछ, दूध, चीज़, घी, मक्खन सभी हमारे स्वास्थ्य सेहत के लिए काफी लाभदायक होती है। कई बार लोगों को दही खाने के बाद एसिडिटी की शिकायत रहती है। लेकिन छाछ दही से ज्यादा गुणकारी होती है इसे पीने के बाद एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती हैय़ अक्सर लोग बाजार से दही और छाछ खरीद कर लाते हैं लेकिन आप चाहे तो घर पर ही छाछ तैयार कर सकते हैं।

इसे बनाना काफी सरल है और घर पर ही आसानी से ताजी छाछ का स्वाद ले सकते हैं। बाजार में आपको मीठी, नमकीन और मसाले वाली छाछ मिल जाएगी, लेकिन आज हम आपको घर पर ही छाछ बनाना सिखाएंगे बस आप इस रेसिपी को फॉलो करें।

इसे बनाने के लिए सामग्री नोट करें

दही ढाई सौ ग्राम

जीरा भुना हुआ

आधा चम्मच काला नमक

पानी आवश्यकतानुसार

कैसे बनाएं छाछ

गर्मियों के मौसम में एवं उमस को दूर करने के लिए छाछ पिया जाता है, लेकिन बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें हर मौसम में नियमित रूप से छाछ पीने की आदत होती है। जो लोग ज्यादातर छाछ बाजार से खरीद कर लाते हैं लेकिन कई बार उनके साथ हाथ के स्वाद में धोखा हो जाता है। कभी उन्हें खट्टा छाछ मिलता है तो कभी बासी ऐसे में आज हम आपको घर पर ही ताजी छाछ बनाने की रेसिपी बताएंगे।

ढाई सौ ग्राम दही को किसी बर्तन में ले। जितनी आपने दही ली है उतना ही आपको पानी डालना है अब मशीन ले और बर्तन में रखे दही को मथना शुरू करें। अगर आपके पास मथानी नहीं है तो मिक्सर से भी दही मथ सकते हैं। जब दोनों अच्छे से मिक्स होकर पतला पानी ना बन जाए और झाग बनना शुरू ना हो जाए तब तक आपको छाछ या दही को मथना है। अगर आपको नमकीन पसंद है तो काला नमक और भुना हुआ जीरा पाउडर डालें। लेकिन अगर आपको मीठा स्वाद पसंद है तो इसमें चीनी डाल सकते हैं। घर में बनी हुई छाछ ना सिर्फ ताजी होती है बल्कि स्वाद में भी शानदार स्वादिष्ट और पौष्टिक होती है।


Latest News