नई दिल्ली: बाजार के उतार-चढ़ाव का इस स्‍कीम में किए गए आापके निवेश पर कुछ भी असर नहीं होने जा रहा है। इसमें आपका पैसा पूरी तरह सेफ होना शुरु हो जाता है।

MIS अकाउंट में सिर्फ एक बार निवेश करना अहम माना जा रहा है और पांच साल बाद गारंटीड मंथली इनकम होना शुरु हो जाती है। अगर आप सिंगल हैं, तो मैक्सिमम 4.5 लाख रुपये एकमुश्‍त डिपॉजिट करने के बाद फायदा ले सकते है।

यानी, हर महीने आपको 2475 रुपये ब्‍याज से कमाई होने जा रही है।इस तरह, आपको पांच साल में 1,48,500 रुपये कुल ब्‍याज मिलेगा. पोस्‍ट ऑफिस की MIS पर अभी 6.6 फीसदी सालाना ब्‍याज मिलने जा रहा है।

MIS: स्‍कीम की क्या होती है खासियत

POMIS स्कीम में मिनिमम 1,000 रुपये के निवेश से अकाउंट खुलना काफी आसान हो जाता है। सिंगल और ज्‍वाइंट दोनों तरह अकाउंट खुलवाया जाना काफी अहम माना जा रहा है। सिंगल अकाउंट में मैक्सिमम 4.5 लाख रुपए और ज्वाइंट अकाउंट 9 लाख रुपए तक निवेश कर फायदा मिलना शुरु हो जाता है।

इंडिया पोस्ट के मुताबिक, MIS में ब्‍याज का भुगतान हर महीने होना शुरु हो जाता है। पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में कोई भी भारतीय नागरिक निवेश करने के बाद फायदा ले सकते हैं।

MIS की मैच्‍योरिटी पांच साल होती है, इसमें प्रीमैच्‍योर क्‍लोजर होना शुरु हो जाता है। हालांकि, डिपॉजिट की तारीख से एक साल पूरे होने के बाद ही आप पैसा निकालकर फायदा ले सकते हैं।

नियमों के मुताबिक, अगर एक साल से तीन साल के बीच में पैसा निकालने जा रहे हैं। तो डिपॉजिट अमाउंट का 2% काटकर वापस किया जाना अहम माना जाता है। अगर अकाउंट खुलने के 3 साल बाद मैच्योरिटी के पहले कभी भी पैसा निकालते हैं तो आपकी जमा राशि का 1% काटकर वापस कर दिया जाता है।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts