नई दिल्ली: अमूमन आपको साइबर क्राइम की घटनाएं देखने को मिल जाती हैं। इसमें आपको झांसा देकर खाते से पैसे निकालने के मामले सुनने को मिल जाते होंगे। हालांकि साइबर पुलिस ने इसपर शिकंजा कसा है, लेकिन फिर भी साइबर घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अभी हाल ही में साइबर अपराध का मामला सामने आया है। दरअसल 23 सितंबर को एक बुजुर्ग के साथ हुई घटना का मामला सामने आया है। यह मामला पटना के शास्त्री नगर थाने में दर्ज हुआ। साइबर अपराधियों ने पुराने सिक्कों के बदले 85 लाख रुपये देने का झांसा देकर सीताराम सिंह नाम के 75 साल के बुजुर्ग के खाते से 1.5 लाख रुपये निकल लिए।

ये भी पढ़ें- Used Car: घर लाइए नई चमचमाती Maruti WagonR, आधी के भी कम कीमत में देगी 25 Km का माइलेज

क्वाइन हब में रजिस्ट्रेशन के नाम पर की ठगी

बुजुर्ग ने इस बारे में बताया कि, साइबर अपराधियों ने करीब 1 महीना पहले कॉल किया था। उन्होंने कॉल करके पुराने सिक्के के बारे में पुछा। सीताराम ने कहा कि उनके पास सिक्के हैं। यह जानने के बाद साइबर अपराधियों ने पुराने सिक्कों की तस्वीर मांगी और उन्हें व्हाट्सएप पर भेजने के लिए कहा। जब उन्होंने पुराने सिक्कों की तस्वीर देखी और सिक्कों के बदले 85 लाख रुपये दें का झांसा दिया।

साइबर अपराधियों ने पहले रजिस्ट्रेशन के नाम पर 23 हजार 350 रुपये की ठगी की। सिक्कों के बदले रुपये देने की बात करने वाले ने खुद का नाम मेधवाल बताया। सीताराम पुराने सिक्के की तस्वीर वाट्सएप पर भेजी। इसके बाद साइबर अपराधियों ने सिक्कों की कीमत 85 लाख बताई। फिर धीरे-धीरे ठग ने क्वाइन हब में रजिस्ट्रेशन करवाने के नाम पर बुजुर्ग से कई किश्तों में पैसे मांगे।

खाते से निकाले 1.5 लाख रुपये निकाले

बुजुर्ग ने पुलिस को बताया कि अपराधियों ने उनके खाते से 1.5 लाख रुपये से ज्यादा रुपये भी निकाले हैं। आशंका जताई जा रही है कि यह ठगी ओटीपी के जरिए की गई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और सबूतों की जांच कर रही है।


Latest News