सुविधा! ट्रेन में सफर के दौरान जेब में नहीं होगी आईडी रखने की जरूरत, डिजिटल आधार करेगा काम 

Facility! No need to keep an ID while traveling in train, digital base will work

ट्रेन में सफर के दौरान जेब में आईडी न होने की पर आप को कई बार परेशानी का सामने करना पड़ता था, लेकिन रेलवे के इस कदम से आप को आइडी रखने की जरूरत नहीं होगी अब बस डिजिलॉकर से काम चल जाएगा। बता दें कि डिजिलॉकर स्कीम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का महत्वपूर्ण हिस्सा है। सेवा के जरिये आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन रख सकते हैं।

होलिका दहन के दिन कर लें ये उपाय, बदल जाएगी आप की किस्मत

डिजिलॉकर ने ट्वीट करके बताया है कि अब ट्रेन में सफर करते हुए यात्री डिजिलॉकर से आधार और ड्राइविंग लाइसेंस को पहचान के मान्‍य सबूत के तौर पर दिखा सकते हैं. इस ट्वीट पर बाद में भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने रीट्वीट किया।

दरअसल आप को बता दें डिजिलॉकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के अहम हिस्सा है, इस इटरनेट आधारित ऐप की मदद कई अहम दस्तावेज को ऑनलाइन रुप से रख सकते है। वही रेलवे के इस सुविधा से अब आप को परेशानी का सामनोे नही करना पडेगा। ट्रेन में सफर के दौरान अब आपको जेब में पहचान का सबूत रखकर चलने की जरूरत नहीं होगी। इसके लिए यात्री डिजिलॉकर से आधार और ड्राइविंग लाइसेंस दिखा सकते हैं ।

Aadhaar का पता बदलना हुआ आसान! mAadhaar APP से मिनटों में फॉलो करें ये स्टेप

वही डिजिलॉकर में आप 1 जीबी तक का क्लाउड स्पेस मुफ्त पाते हैं। इस एप में अपने डॉक्यूमेंट को स्कैन कर रखा जा सकता है. जरूरत पड़ने पर इस डिजिलॉकर का इस्तेमाल किया जा सकता है।