नई दिल्लीः अक्टूबर महीना मानसून की विदाई का माना जाता है, लेकिन इस बार मौसम भी बेईमान हो रहा है। दिल्ली एनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के तमाम इलाकों में बीते दो दिनों से बारिश देखने को मिल रही है, जिससे पारा काफी नीचे आ गया है। बारिश के चलते लोगों को ठंड का एहसास हो रहा है, इतना ही नहीं वर्षा से किसानों की फसलों को भी नुकसान हुआ है। कई जगह भारी बारिश होने से मकान गिरने के साथ-साथ सड़कें धंस गई। उत्तराखंड में भी बारिश का सितम जारी है। इस बीच भारतीय मौसम विभाग(आईएमडी) ने आने वाले दिनों में भी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।

Weather Alert: बिजली गिरने के खतरे से स्कूलों की छुट्टी, इन राज्यों में होगी आफत की बारिश

  • यहां होगी भारी बारिश

आईएमडी के अनुसार, आने वाले दो 2 से तीन दिन में हरियाणा के तमाम हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। इन हिस्सों में आज सुबह से ही बादलों ने डेरा डाल रखा है, जिससे कुछ हिस्सों में बूंदाबांदी भी देखने को मिली है। आईएमडी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पूर्वी राजस्थान में 11 अक्टूबर तक हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है।

जानकारी के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के कारण मानसून के बाद भी बारिश देखने को मिल सकीत है। चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र तटीय आंध्र प्रदेश और आस-पास के हिस्सों पर बना है। एक ट्रफ रेखा चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र से तेलंगाना, विदर्भ, पश्चिमी मध्य प्रदेश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश होते हुए उत्तर पश्चिम उत्तर प्रदेश तक फैली हुई है।

  • इन राज्यों में बारिश की चेतावनी

आईएमडी ने 10 क्टूबर को पश्चिम बंगाल और सिक्किम, ओडिशा, बिहार मेमं भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। इसके अलावा 1 से 11 अक्टूबर के दौरान आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय में झमाझमा बारिश की उम्मीद जताई है।

वहीं, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक में 9 और 10 अक्टूबर को बारिश का प्रकोप देखने को मिल सकता है। दक्षिण कर्नाटक में 9 से 11 अक्टूबर को भारी बारिश की संभावना बनी हुई है। 10 से 11 अक्टूबर को नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश होने की उम्मीद है।


Latest News