30 साल बाद गायब विमान ने साधा सपर्क, फिर सफल लैंडिंग देख उड़े होश, जानें Flight 914 की सच्चाई?

नई दिल्लीः देश और दुनिया में ऐसी घटनाएं हुई, जिन्हें सुनकर सिर्फ पहेली ही नजर आती हैं लेकिन ऐसा नहीं है। आपने टाइम टैवल के बारे में तो खूब सुना होगा, जिसे लेकर सबके अलग-अलग दावे रहते हैं। टाइम टैवल को लेकर किए गए दावों को सुनकर तनिक भी विश्वास नहीं होता है कि यह कैसे सच है। आज हम एक फ्लाइट से ही जुड़ा किस्सा बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आपका माथा चकरा जाएगा।

इस किस्से को लेकर भी अलग-अलग दावे किए जाते रहते हैं। आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कौन सा किस्सा है, जिसे लेकर अलग-अलग दावे किए जाते हैं। आपने केन्या और भारत जैसों देशों की फ्लाइट के चर्चे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। आपसे कोई कहे कि एक फ्लाइट ने करीब 30 साल बाद लैंडिंग की तो आपको बिल्कुल भी यकीन नहीं आएगा।

तीस साल बाद जमीन पर उतरी फ्लाइट

इन दिनों एक पोस्ट वायरल हो रही है, जिसमें एक फ्लाइट के 30 साल लैंडिंग करने का दावा किया जा रहा है। वायरल मैसजे के मानें तो सन 1955 में अमेरिका के न्यूयॉर्क से प्लाइट 914 ने उड़ान भरी थी, लेकिन आसमान में क्या हुआ कि विमान लैंडिंग नहीं कर सका। इस विमान में 57 यात्री बैठे थे। इसके बाद अचानक आसमान में न जाने क्या हुआ, वो विमान एकदम छूमंतर हो गया।

किसी को भी इस विमान के बारे में अता पता नहीं चला। लेकिन 30 साल वर्ष 1985 में इस फ्लाइट ने सफल लैंडिग की। पहले फ्लाइट का संपर्क मियामी के एयर ट्रैफिक कंट्रोल से होता है, जिसके बाद लैंडिंग होती है। यह देखकर सबके होश उड़ गए कि 30 साल बाद ऐसे कैसे संभव है। ऐसा दावा सोशल मीडिया पर भी किया जा रहा है।

फटाफट जानें दावे की सच्चाई

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, विमान के गायब होने की खबर पूरी तरह से झूठी है। कभी ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया था, लेकिन यह जानकारी सबसे पहले 1985 में अमेरिकी प्रिंट टैबलॉइड, वीकली वर्ल्ड न्यूज में प्रकाशित हुई थी। इस टैबलॉइड में कई काल्पनिक कहानियां छपा करती थीं।

ये बस उन्हीं में से एक था, जिसे लोगों ने सच मान लिया और अलग-अलग पत्र-पत्रिकाओं में इसे छापने लगे। आप ऐसी अफवाहों में बिल्कुल ना आएं। timesbull.com ने मीडिया में चल रही खबरों के आधार पर यह आर्टिकल पब्लिश किया है।