Times Bull
News in Hindi

जाने कैसे मोबाइल एप्प बनाकर और कमा सकते हैं पैसा

अपना खुद का एप क्रिएट करना अब आसान है। (how to make ) ड्रैग एंड ड्रॉप इंटरफेसेज, प्रोफेशनली डिजाइन्ड टैम्पलेट्स और कई तरह की सलाह की मदद से आप एप बनाकर अपने पसंद के प्लेटफॉर्म पर रन करवा सकते हैं…

एपमेकर में एप बेसिक्स प्लान 1 डॉलर प्रति माह में मिलता है (यह प्लान 12 माह के लिए 12 डॉलर चुकाने पर मिलता है)। अगर आप मासिक बिल चुनते हैं तो आपको 2 डॉलर प्रति माह का भुगतान करना पड़ेगा। इस कीमत में आपको एपमेकर मार्केट में एक नेटिव एंड्रॉइड एप मिलता है। यह गूगल प्ले स्टोर पर लिस्टेड नहीं किया जाता। यहां आपको अनलिमिटेड यूजर्स, अनलिमिटेड अपडेट्स, विज्ञापनों पर पाबंदी और लाइव स्टेटिक (यूजेज और यूजर्स को ट्रैक करने के लिए), ईमेल सपोर्ट जैसी सुविधाएं मिलती है। यहां आपको एप पर एपमेकर की ब्रांडिंग रहती है। इससे यूजर्स को पता लग जाता है कि एप एपमेकर पर तैयार किया गया है। आप एप को एक एचटीएमएल 5 मोबाइल साइट के तौर पर बना सकते हैं। इस तरह आपके एप को एचटीएमएल 5 इनेबल्ड स्मार्टफोन्स से एक्सेस किया जा सकेगा।

बजटच एक वेब आधारित टूल है जो आपको एंड्रॉइड और आईओएस एप बनाने में मदद करता है। यह एक भी कम्यूनिटी भी है। इससे आप नेटिव एप्स बना सकते हैं। अगर आपको किसी तरह की परेशानी आए तो कम्यूनिटी से मदद ले सकते हैं। बजमैप आपको कम्यूनिटी के दूसरे सदस्यों से कनेक्ट होने की सुविधा देता है। आप पता लगा सकते हैं कि वे दुनिया के किस कोने से कनेक्ट हो रहे हैं। बजटच का गेस्ट वर्जन फ्री है और तीन होस्टेड एप्स के लिए इजाजत देता है। आप उनके प्लगइन्स और ऑनलाइन वेबिनर्स तक एक्सेस कर सकते हैं। बजटच फ्री आईओएस एप क्चह्लत्रश् ऑफर करता है। इससे छोटे गैजेट तैयार कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर टाइम क्लॉक (किसी के जाने और आने पर ईमेल मिलता है) और चेक-इन मैप (जब कोई कहीं पर चेक-इन करता है) उपयोगी टूल हैं।

एप्स बनाने के लिए एप्सबार शानदार जगह है। यहां एंड्रॉइड और एचटीएमएल 5 एप्स के नेटिव एप्स तैयार कर सकते हैं। एक फ्री साइन अप के बाद एप का प्रकार चुन सक ते हैं। आपको पूरी जानकारी जैसे नाम, आइकन, थीम और स्प्लैश स्क्रीन डालनी होगी। पेज चुनकर इसे टेक्स्ट और इमेज से भरना होगा। एप बनाने के बाद इसे सब्मिट कर दे। एप्सबार की टीम एप को जांचेगी और विभिन्न एप स्टोर्स के क्वालिटी स्टैंडर्ड के अनुरूप इसमें बदलाव करेगी। सब्मिशन के बाद यह एप्सबार के मार्केटप्लेस एपकैच में लाइव होगा।

विंडोज 10 के साथ एक सिंगल इंटरफेस छोटी स्क्रीन (स्मार्टफोन) से लेकर टैबलेट और टीवी के लिए स्केल हो सकता है। विंडोज एप स्टूडियो की मदद से चार आसान स्टेप्स में एप तैयार कर सकते हैं। इसके लिए प्रोग्रामिंग नॉलेज की जरूरत नहीं है। स्टार्ट पेज पूरी स्टेप्स के दौरान वीडियोज से गाइड करता है। पूरी प्रोसेस हो जाने के बाद एक स्टूडियो आपको सोर्स कोड ऑफर करता है। इसे माइक्रोसॉफ्ट विजुअल स्टूडियो में संपादित कर सकते हैं। यहां कई टैंपलेट मिलते हैं। इनसे आप कंपनी वेबसाइट और एप आसानी से तैयार कर सकते हैं।

यह शेयर्ड रेवन्यू मॉडल का इस्तेमाल करके एंड्रॉइड एप तैयार करने में मदद करता है। शुरूआत में यह मौजूदा वेब कंटेंट को एप के रूप में तैयार करने की सुविधा देता है। आपको अलग-अलग वर्गो जैसे वेब, बिजनेस, मीडिया या गेम्स में टैंपलेट चुनना पड़ेगा। इसके बाद कंटेंट डालना होगा और फिर एप पब्लिश करना पड़ेगा। हर एप में बैनर एड का स्लॉट बना हुआ है। अगर एप को 100 से ज्यादा लोग इंस्टॉल करते हैं तो यह उपलब्ध हो जाता है। आपको किसी एड नेटवर्क के साथ रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा। एड सिर्फ आधे समय के लिए डिस्प्ले किए जाएंगे, बचे हुए समय में इस टूल के एडवर्टाइजमेंट्स दिखाए जाएंगे।

इस प्लेटफॉर्म पर तैयार किया गया एप यैप एप के अंदर ही नजर आएगा। इसे आप गूगल प्ले स्टोर या एप्पल एप स्टोर से ले सकते हैं। इससे आपको गूगल और एप्पल को डवलपर फीस चुकाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि यैप आपके एप को होस्ट कर रहा है। इसलिए वह डवलपर फीस चुकाएगा। इसके अलावा इस प्लेटफॉर्म का एक फायदा यह भी है कि आप जो एप बनाएंगे, वह पब्लिश करने के कुछ सेकंड्स बाद ही डाउनलोड करने योग्य बन जाएगा। इसका कोर वर्जन फ्री है। इस प्लेटफॉर्म की मदद से आप महत्वपूर्ण कार्यो को दूसरे के साथ आसानी से शेयर कर सकते हैं। अगर वेडिंग प्लानिंग कर रहे हैं तो इसकी मदद से आप सभी गेस्ट्स के साथ इवेंट्स को शेयर कर सकते हैं।

मोबिनक्यूब एप क्रिएशन के लिए एक वेब आधारित ड्रैग एंड ड्रॉप इंटरफेस ऑफर करता है। यहां आप कई तरह के एप्स जैसे कैटलॉग्स, ई-कॉमर्स, गाइड्स, पोर्टफोलियो आदि तैयार करते हैं। आपके एप में स्टेटिक और डायनेमिक कंटेंट जैसे आरएसएस फीड्स, फॉम्र्स, मैप्स, टेक्स्ट और इमेज शामिल कर सकते हैं। आप स्टार्टिग प्वॉइंट पर मल्टीपल टैंपलेट्स इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका शुरूआती वर्जन फ्री है और आपको अनलिमिटेड एप्स बनाने की सुविधा देता है। इससे आप अपनी एप बनाने की स्किल को मजबूत कर सकते हैं। एक बार एप बनाने में पारंगत हो जाने के बाद आप प्रोफेशनली भी इस काम को शुरू कर सकते हैं। यहां एप तैयार करने के बाद आप इसे गूगल प्ले स्टोर, अमेजॉन एप स्टोर आदि पर पब्लिश करने का विकल्प चुन सकते हैं। इसके लिए आपको डवलपर और रजिस्ट्रेशन फीस चुकानी होगी।

इसकी मदद से आपको रियल टाइम में एप अपडेट्स, पुश नोटिफिकेशन, लोकेशन ट्रेकिंग, सोशल मीडिया, एप एनालिटिक्स, ब्लॉग इंटीग्रेशन और फोटो गैलेरी इंटीग्रेशन जैसे फ ीचर्स मिलते हैं। इंटरफेस बदलावों का प्रिव्यू दर्शाता है। इससे आप पता लगा सकते हैं कि एप कैसा नजर आएगा। यह आपको मोबाइल गेम्स तैयार करने में भी मदद करता है। इसके लिए गेम टाइप सलेक्ट करना होगा। इसके बाद आइकन्स/नाम का इनपुट देना होगा। आखिर में इसे एंड्रॉइड और आईओएस के लिए पब्लिश कर सकते हैं। फ्री अकाउंट सीमित फीचर्स ऑफर करता है और एड दिखाता है। 12 डॉलर प्रति माह में आपको ऊपर बताए गए सभी फीचर्स मिल सकते हैं और प्ले स्टोर पर एंड्रॉइड एप सब्मिशन की सुविधा मिलती है।

गेमसलाद आपको आईओएस, एंड्रॉइड और एचटीएमएल 5 के लिए मोबाइल गेम्स बनाने में मदद करता है। इसके लिए सबसे पहले आपको अपने कम्प्यूटर पर गेमसलाद क्रिएटर सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना पड़ता है। यह आपको एक्शन्स, ग्राफिक्स और साउंड इफेक्ट्स की एक लाइब्रेरी ऑफर करता है, ताकि आप ड्रैग एंड ड्रॉप का इस्तेमाल करके गेम तैयार कर सकें। इसका फ्री अकाउंट आपको एडवर्टाइजमेंट के साथ आईओएस स्टोर पर गेम पब्लिश करने की सुविधा देता है। इसके लिए एप्पल डवलपर अकाउंट होना जरूरी है। अगर आप अपना गेम दूसरे प्लेटफॉम्र्स पर पब्लिश करना चाहते हैं तो आपको गेमसलाद का प्रो अकाउंट लेना पड़ेगा। इसके लिए आपको 299 डॉलर प्रति वर्ष चुकाने होंगे। प्रो अकाउंट की मदद से इन-एप परचेज की सुविधा देता है। आप एड नेटवर्क, सोशल मीडिया इंटीग्रेशन, एक्सटर्नल लिंक और मल्टीप्लेयर गेम्स की सुविधा भी प्राप्त कर सकते हैं।

बिल्डफायर आपको वीडियो ट्रेनिंग, डिटेल्ड डॉक्यूमेंटेशन और सपोर्ट पर्सन से चैट ऑफर करता है। यहां आपको स्मार्टफोन के लिए प्रिव्यूअर एप भी मिलता है। इससे आप आसानी से पता लगा सकते हैं कि मोबाइल स्क्रीन पर आपका एप किस तरह का नजर आएगा। जब आप कोई टैंपलेट चुनते हैं तो आपको एप एडिटर तक एक्सेस मिल जाती है। इससे आप अपीयरेंस, पुश नोटिफिकेशन, कंटेंट, सोशल मीडिया इंटीग्रेशन आदि कॉन्फिगर कर सकते हैं। इससे आप फ्री में आसानी से एचटीएमएल 5 वेब वर्जन पब्लिश कर सकते हैं। यह अलग-अलग प्लेटफॉम्र्स पर काम करता है। इससे एप तैयार करना काफी आसान है। इसके लिए आपको किसी तरह की टेक्नीकल नॉलेज की भी जरूरत नहीं पड़ती। अगर आप अपने एप को गूगल प्ले स्टोर या एप्पल एप स्टोर पर पब्लिश करना चाहते हैं तो आपको इसका प्रीमियम सब्सिक्रप्शन (49 डॉलर प्रति माह) लेना होगा।

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Related posts

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Loading...