CBSE Board New Rule: सीबीएसई बोर्ड ने लागू किए नए नियम! अब हर बच्चा आएगा पढ़ाई में अव्वल

CBSE Board New Rule:  इस साल सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं पूरी हो चुकी हैं और अब केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के 38 लाख छात्र अपने सीबीएसई बोर्ड रिजल्ट 2024 का इंतजार कर रहे हैं। बोर्ड रिजल्ट की तारीखों के बीच सीबीएसई बोर्ड ने हाल ही में कक्षा 11वीं और 12वीं की परीक्षाओं में बदलाव की घोषणा की है। सीबीएसई ने कहा कि इस शैक्षणिक सत्र से कक्षा 11वीं और 12वीं की परीक्षाओं में दक्षता आधारित प्रश्नों की संख्या अधिक होगी।

सीबीएसई कक्षा 11वीं, 12वीं की परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न अब 50 प्रतिशत होंगे। जबकि लघु और दीर्घ उत्तर वाले प्रश्नों की संख्या कम होगी। बोर्ड ने कहा कि यह बदलाव केवल सीबीएसई 11वीं, 12वीं कक्षा की परीक्षा के प्रारूप में होगा। कक्षा 9वीं और 10वीं की परीक्षा का प्रारूप वही रहेगा।

अप्रैल के पहले सप्ताह में परीक्षा प्रारूप में बदलाव की घोषणा करने वाले सीबीएसई बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि शैक्षणिक सत्र 2024-25 से कक्षा 11 और 12 की परीक्षाओं में दक्षता आधारित प्रश्नों की संख्या अधिक होगी। अधिकारियों ने कहा कि इसका उद्देश्य यह पता लगाना है कि छात्र वास्तविक जीवन में इन अवधारणाओं को कितना समझ पा रहे हैं।

रटकर सीखने से छात्र तोते नहीं बनेंगे

जोसेफ इमैनुएल ने कहा कि सीबीएसई बोर्ड मुख्य रूप से एक ऐसा शैक्षिक पारिस्थितिकी तंत्र बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है जिसका उद्देश्य रटकर सीखने के बजाय सीखने पर जोर देकर छात्रों की रचनात्मक सोच क्षमताओं को विकसित करना है ताकि वे 21वीं सदी की चुनौतियों से निपट सकें। इमैनुएल ने कहा कि बोर्ड शैक्षणिक सत्र 2024-2025 के लिए मूल्यांकन अभ्यास को एनईपी-2020 के साथ संरेखित करने की दृष्टि से आगे बढ़ रहा है।