Google New Features: गूगल अपने यूजर्स की सेफ्टी का पूरा ध्यान रखता है और अपने ग्राहकों को खुश करने के लिए नए – नए फीचर्स भी जोड़ता रहता है। बात चाहे जीमेल की या फिर गूगल चैट की, इनमें काफी बदलाव देखने को मिला है। इसी बीच एक बार फिर से गूगल ने अपने चैट प्लेटफॉर्म में बड़ा बदलाव किया है। तो आइए इस बदलाव के बारे में आपको समझाते हैं।

रेड वॉर्निंग फीचर्स

इस फीचर को रेड वॉर्निंग नाम से पेश किया गया है। गूगल ने चैट प्लेटफॉर्म के यूजर्स को फेक इनवाइट इनवाइट और लिंक से बचाने के लिए रेड वार्निंग बैनर ऐड किया है। जो फ़िशिंग और/या मैलवेयर बेस अटैक के लिए एक कवर हो सकता है। यह गूगल चैट के मोबाइल व डेस्कटॉप दोनों ही प्लेटफॉर्म पर कुछ ही हफ्तों में नजर आना शुरू हो जायेगा। अब जैसे ही आपको कोई संदिग्ध मैसेज मिलेगा, तो तुरंत ही गूगल इसे ब्राइट रेड बॉक्स के अंदर “this invite is suspicious” मैसेज के जरिए फ्लैग करेगा।
यह इनवाइट संदिग्ध है’ इस कनवर्सेशन में ज्ञात फिशिंग साइटों के लिंक हैं, जो आपकी जानकारी को चुराने की कोशिश करते हैं।

यह नया फीचर काफी हद तक मैलवेयर को रोकने में कारगर साबित हो सकता है। यूजर्स को कोई भी खतरनाक मैसेज लिंक्स आते ही अलर्ट मिल जाएगा, तो वह उस पर क्लिक नहीं करेगा। इससे फोन हैकिंग जैसे मामले कम हो सकते है।

Google चैट के लिए नई ‘रेड वार्निंग’ सुविधा “सभी Google कार्यक्षेत्र ग्राहकों के साथ-साथ पुराने G Suite बेसिक और व्यावसायिक ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगी” और “व्यक्तिगत Google खातों वाले उपयोगकर्ताओं” के लिए भी यह सुविधा अन्य Google के लिए पूरी तरह से नई नहीं है। कुछ समय के लिए जीमेल और गूगल ड्राइव में सुइट सेवाएं और इसकी कुछ पुनरावृत्ति हुई है। यह सुविधा Google डॉक्स, शीट्स और स्लाइड्स जैसे अन्य Google सुइट अनुप्रयोगों के लिए भी शुरू की गई है और दुनिया भर के ग्राहकों तक पहुंचने में कुछ समय लग सकता है।

यहां भी जरूर पढ़े : Old Coins : अगर आपके पास नहीं है कोई जॉब,तो पुराने सिक्कों को बेचकर खड़ा करें करोड़ों का बिजनेस 

यहां भी जरूर पढ़े : Earn Money: 100 रुपये का ये नोट आपको रातों रात बना देगा लखपति

Recent Posts