Browsing Category

धर्म/ज्योतिष

8 शक्तिशाली दुर्गा मंत्र जो आपके जीवन को बदल देंगे

दुर्गा सार्वभौमिक देवी हैं। वह स्वयं सर्वोच्च परम दिव्य आदि-पराशक्ति है। दुर्गा का शाब्दिक अर्थ है 'एक किला' और उसका नाम 'अजेय' वाले व्यक्ति के लिए है। वह सभी शाक्यों, महाशक्तियों का अवतार है और हिंदू पैंथों की प्रमुख महिला देवता है। उसे…

12 वर्षों में एक बार होने वाला प्रसिद्ध महामहाम त्योहार 19 फरवरी को, जानिए इसके पीछे की कहानी

12 वर्षों में एक बार होने वाला प्रसिद्ध महामहाम त्योहार कुंबकोणम शहर और वहां के पवित्र तालाब के साथ जुड़ा हुआ है। हालांकि, ऐसी किंवदंतियां हैं जो इस अवसर को तमिलनाडु के शिवगंगा जिले में स्थित एक अन्य पवित्र स्थान, थिरुकोकशतीयूर के साथ…

इस मंत्र का करें जाप, पूरी होगी हर मनोकामना

कृष्ण भगवान विष्णु के एक पवित्र अवतार हैं, जो संरक्षण और जीविका के सर्वोच्च देवता हैं। वह अपने 9 वें अवतार के रूप में माना जाता है और शायद अपने महानतम के रूप में भी। कृष्ण ने जीवन में कई महान भूमिकाएँ निभाईं और प्रेम, दया, ज्ञान, शक्ति और…

ज्योतिष विद्या : शरीर के इस अंग का तिल बनाता है करोड़पति

ज्योतिष के अनुसार हम सभी के विभिन्न शारीरिक अंगों पर मौजूद तिल कुछ न कुछ खास रहस्य को बताते हैं। कुछ तिल शुभ होते हैं तो कुछ अशुभ। ज्योतिष विद्या के मुताबिक इन तिलों का अलग-अलग महत्व होता है। इसी तरह काले, भूरे और लाल तिलों को भी अलग-अलग…

मौनी अमावस्या पर 1.81 करोड़ श्रद्धालुओं ने संगम में लगाई डुबकी

दुनियाभर के हजारों श्रद्धालुओं ने मौनी अमावस्या के अवसर पर सोमवार सुबह सर्दी और कोहरे के बीच तीन पावन नदियों - गंगा, यमुना और अदृश्य सरस्वती के पवित्र संगम में डुबकी लगाई। अधिकारियों के अनुसार, सोमवार सुबह नौ बजे तक 1.81 करोड़ लोग पवित्र…

Mauni amavasya 2019 : मौनी अमावस्या पर करें ये अचूक उपाय, बरसेगा धन और चमकेगी किस्‍मत

Mauni amavasya 2019 : हिंदू कैलेंडर (Hindu Calendar) के मुताबिक माघ का महीना चल रहा है और इसी माघ महीने में आने वाली अमावस्या मौनी अमावस्या कहलाती है। इस बार मौनी अमावस्या 4 फरवरी को पड़ रही है। कृष्ण पक्ष में पड़ने वाली अमावस्या को माघी…

न्यूमरोलॉजी 2019 : जन्म की तारीख के आधार पर 2019 की भविष्यवाणी

न्यूमरोलॉजी 2019 जन्म की तारीख के आधार पर 2019 की भविष्यवाणी, 2019 के आगमन के साथ, आप यह जानने के लिए अलग-अलग रास्ते खोज रहे होंगे कि आप इस वर्ष में कितने भाग्यशाली होंगे। 2019 एक '3' वर्ष है इसका मतलब यह होगा कि कई अच्छी चीजों की उम्मीद…

5 काम जो पूर्णिमा तथा अमावस्या को नहीं करने चाहिए

सहवास न करेंयूं तो सहवास पारिवारिक जीवन का अभिन्न अंग है परन्तु नवरात्रि में पूजा-अर्चना करने वालों के लिए सहवाग के लिए स्पष्ट मना किया गया है। यह समय हमारे शरीर के लिए ऊर्जा एकत्रित करने का सर्वश्रेष्ठ समय है जिसे हम सही तरीके से उपयोग…

पूजा में इन 8 बातों का ध्यान रखने से प्रसन्न होते हैं भगवान

(1) हिंदू धर्म में पांच देवता सूर्य, गणेश, शक्ति, शिव तथा विष्णु बताए गए हैं। इनकी प्रतिदिन पूजा-आराधना से मनुष्य की हर इच्छा पूरी होती है। (2) सभी देव-प्रतिमाओं को अनामिका अंगुली से ही तिलक करना चाहिए। तिलक चंदन, कुमकुम का हो सकता है…

भगवान शंकर को प्रिय है प्रदोष व्रत, देता है यश, वैभव और सम्पन्नता

प्रदोष व्रत पूर्व  तिथि के संयोग से मनाया जाता है। यानी द्वादशी तिथि से संयुक्त त्रयोदशी तिथि को यह व्रत आचरित किया जाता है। पक्ष भेद होने के कारण इसे शुक्ल या कृष्ण प्रदोष व्रत कहा जाता है। भगवान शिव को यह व्रत परम प्रिय है इसलिये इस…