SURYA GRAHAN 2022 DATE: हिंदू धर्म में दिवाली के त्यौहार को बड़े ही धूम – धाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार धनतेरस से शुरू होकर पांच दिनों तक जारी रहता है। इस बार दिवाली का फेस्टिवल 24 अक्टूबर को मनाया जायेगा। इस त्यौहार को लेकर लोगों ने अभी से तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। इस साल दिवाली के एक दिन बाद सूर्य ग्रहण (SURYA GRAHAN) लगने वाला है। यह इस साल का आखिरी आंशिक सूर्य ग्रहण होगा, जो 25 अक्टूबर को लगने वाला है। तो आईये जानते हैं कि इस बार का आखिरी सूर्य ग्रहण भारत में देखा जायेगा या नहीं? आईये डालते हैं एक नजर…

Also Read- नहीं होना चाहते हैं बर्बाद तो घर में भूलकर भी ना लगाएं ये 3 पौधे, वरना आ जायेंगे सड़क पर

Also Read- हनुमान जी को खुश करने और सुख-समृद्धि पाने के लिए आज ही लगाएं ये पौधे, मिलेगा साढ़ेसाती से छुटकारा!

इस साल लक्ष्मी पूजा के अगले दिन सूर्य ग्रहण का असर देखने को मिलेगा। आंशिक सूर्य ग्रहण पृथ्वी के ध्रुवीय क्षेत्रों में तब होता है, जब चंद्रमा की छाया का केंद्र पृथ्वी से चूक जाता है। आंशिक सूर्य ग्रहण यूरोप, यूराल और पश्चिमी साइबेरिया, मध्य एशिया और पश्चिमी एशिया और अफ्रीका के उत्तर-पूर्व से दिखाई देगा। ज्योतिषों के अनुसार, साल का आखिरी सूर्य ग्रहण दिल्ली बेंगलुरु, कोलकाता, चेन्नई, उज्जैन, वाराणसी, मथुरा, में दिखाई देने वाला है। ऐसे में लोगों को अधिक सावधान रहने की जरुरत है।

भारत में सूर्य ग्रहण का समय
Timeanddate.com वेबसाइट के मुताबिक, यह आंशिक सूर्य ग्रहण नई दिल्ली में दिखाई देगा। आंशिक ग्रहण 25 अक्टूबर को शाम 04 बजकर 29 मिनट से शाम 05 बजकर 30 मिनट तक रहेगा। ग्रहण की समाप्ति 05 बजकर 43 मिनट पर होगा।

सूर्य ग्रहण में क्या करें और क्या न करें?
ग्रहण लगने के दौरान भारत में ज्यादातर लोग आमतौर पर घर के अंदर रहना पसंद करते हैं। इसके अलावा ग्रहण लगने के दौरान लोग कोई भी शुभ काम करने से बचते हैं।ग्रहण या ग्रहण के समय किसी भी खाद्य पदार्थ का सेवन नहीं करते हैं। इतना ही नहीं कई लोग ग्रहण खत्म होने के बाद स्नान करने और नए कपड़े पहनने में विश्वास करते हैं। विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं को घर के अंदर रहने के लिए कहा जाता है। संतान गोपाल मंत्र का जाप करने के लिए कहा जाता है। वहीं, कुछ लोग ग्रहण की अवधि के दौरान पानी पीने से परहेज करते हैं।


Latest News