डोनाल्ड ट्रंप के दौरे से पहले यूएस की एक रिपोर्ट ने उड़ाई भारत की नींद

 

नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति (America President)  डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) 24 फरवरी को दो दिवसीय दौरे के लिए भारत आने वाले हैं, जिसे लेकर जोरो से तैयारियां चल रही हैं। दूसरी ओर डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के दौरे पहले अमेरिका एजेंसी (America Agency) की एक रिपोर्ट भारत के लिए किसी चिंता से कम नहीं हैं।

अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता संबंधी अमेरिकी आयोग (USCIRF)ने अपनी एक रिपोर्ट जारी की है, जिसमें भारत में धार्मिक उत्पीड़न के मामलों में बढ़ोतरी दिखाई गई है। साथ ही नागरिकता संशोधन एक्ट को लेकर चिंता व्यक्त की गई है। इस रिपोर्ट में भारत को टियर-2 की श्रेणी में रखा है, जो कि ‘विशेष चिंता का देश’ वाली श्रेणी है।

America, अमेरिकाUSCIRF की इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 2018 के बाद से भारत में धार्मिक उत्पीड़न के मामले बढ़े हैं। कुछ राज्यों में धार्मिक स्वतंत्रता की बिगड़ती परिस्थितियों को उजागर किया गया है, लेकिन सरकारें इन्हें रोकने का प्रयास नहीं कर रही हैं। रिपोर्ट में लिखा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उपद्रव को कम करने वाले बयान नहीं दिए और उनकी पार्टी के सदस्यों का हिंदू चरमपंथी के संगठनों से संबंध रहा। इन्हीं नेताओं ने भड़काऊ भाषा का इस्तेमाल किया।

रिपोर्ट के जरिए अमेरिकी सरकार ने भारत सरकार के आगे कुछ सिफारिशें रखी हैं, जिनमें भड़काऊ भाषण देने वालों को कड़ी फटकार लगाना, पुलिस को मजबूत किया जाए ताकि एक्शन लिया जाए और पूजा स्थलों की सुरक्षा बढ़ाई जा सके। कई घटनाओं का जिक्र करने के अलावा नागरिकता संशोधन एक्ट पर चिंताएं व्यक्त की गई हैं और कहा गया है कि एक बड़े तबके में इससे डर का माहौल है।

Notifications    Ok No thanks