News in Hindi

सांता क्लॉज का नहीं है क्रिसमस से कोई कनेक्शन, जानें क्या है वजह

क्रिसमस के मौके पर हर कोई सेलिब्रेशन के मूड में होता है। चर्च से लेकर घर और मॉल्स तक हर जगह क्रिसमस के रंग नजर आते हैं। सजा धजा क्रिसमस ट्री, चौकलेट केक और इन सब के बीच गिफ्ट्स।

गिफ्ट्स का नाम लेते ही सांता क्लॉज याद आते हैं। सफेद दाढ़ी, लाल रंक के कपड़े, लाल और सफेद रंग की कैप और पीठ पर गिफ्ट्स की पोटली। बरसों से ही क्रिसमस पर सांता क्लॉज बन कर घर के बूढ़े बुजुर्ग बच्चों को गिफ्ट देते हैं।

घर में ही बना सकते हैं क्रिसमस ट्री, यह है आसान तरीका

कुछ लोग मानते हैं कि सांता क्लॉज भगवान का भेजा गया कोई दूत है, वहीं कुछ का मानना है कि सांता यीशु के पिता हैं और अपने बेटे के जन्मदिन के अवसर पर बच्चों को तोहफे देते हैं, लेकिन क्या आपको सच पता है।

आपको जानकर हैरत होगी की सांता क्लॉज का क्रिसमस से कोई संबंध नहीं है। ऐसे प्रमाण मिले हैं कि तुर्किस्तान के मीरा नाम के शहर के बिशप संत निकोलस के नाम पर सांता क्लॉज का चलन करीब चौथी सदी में शुरू हुआ था, वे गरीब और बेसहारा बच्चों को तोहफे दिया करते थे। वजह चाहे जो भी हो, लेकिन सांता क्लॉज के बिना क्रिसमस नहीं मनाया जा सकता।