Times Bull
News in Hindi

दुनिया के 10 ऐसे देश, जहां के लोगों को नहीं देना पड़ता है इनकम टैक्स

Top 10 tax haven countries in the world : Information in Hindi – आज हम आपको दुनिया के 10 ऐसे देशों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां आप चाहे जितना कमाएं, लेकिन आपको 1 रुपए भी इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता। चौंकिए नहीं, ये सही है। लेकिन इससे पहले टैक्स से जुड़े कुछ अमेजिंग फैक्ट्स…

डेनमार्क की सरकार साठ हजार डॉलर से ऊपर कमाने वाले लोगों से 60 प्रतिशत टैक्स लेती है।
बेल्जियम में अविवाहित लोगों को 43 प्रतिशत इनकम टैक्स चुकाना होता है जबकि जर्मनी में यह प्रतिशत 39.9 प्रतिशत है।
सबसे कम इनकम टैक्स लेने वाले देशों की बात करें तो चिली में सात प्रतिशत और मेक्सिको में कुछ इनकम स्लैब्स में 9.5 प्रतिशत तक टैक्स लिया जाता है।
1. बरमूडा (Bermuda)-

बरमूडा देश छोटा है, बावजूद कोई पर्सनल टैक्स नहीं देना पड़ता। एम्प्लॉयरको 14 फीसदी पे-रोल टैक्स देना होता है।

2. ब्रुनई (Brunei)-

ब्रुनई दारुस्सलाम में किसी भी तरह का पर्सनल इनकम टैक्स नहीं है। यहां बस एक एम्प्लाई ट्रस्ट फण्ड और सप्लीमेंटल कंट्रीब्यूटरी पेंशन स्कीम है।

3. संयुक्त अरब अमीरात (UAE)-

संयुक्त अरब अमीरात ऐसा देश है, जहां लोग अमीर है लेकिन उन्हें इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता। विदेशी बैंक और विदेशी तेल कम्पनियों की कैपिटल गेन इनकम पर पर नॉर्मल बिज़नेस टैक्स ही लगाया जाता है।

4. सउदी अरब (Saudi Arabia) –

सउदी अरब में वेतन पर कोई टैक्स नहीं है। हालांकि, स्वयं का व्यवसाय करने वाले प्रवासियों पर 20 फीसदी टैक्स लगता है। यहां किसी व्यक्ति पर किसी भी तरह का अन्य कोई टैक्स लागू नहीं है।

5. बहमास (Bahamas)-

बहमास में भी कोई इनकम टैक्स नहीं है। यहां कैपिटल गेन, उत्तराधिकार या गिट टैक्स भी नहीं देना होता। यहां रियल एस्टेट एक्जीविशन टैक्स (स्टाम्प ड्यूटी) और होल्डिंग टैक्स (रियल प्रॉपर्टी टैक्स) लागू है।

6. कतर (Qatar) –

कतर में तेल के अथाह भंडार से इस देश के लोग भी काफी अमीर है बावजूद टैक्स नहीं लगता। किसी भी व्यक्ति या कर्मचारी पर आयकर,डिविडेंड, कैपिटल गेन्स व धन या सम्पत्ति के ट्रांसफर पर कोई टैक्स नहीं है।

7. ओमान (Oman)-

ओमान एक तेल उत्पादक देश है। यहां भी किसी व्यक्ति की आय पर कोई टैक्स नहीं लगता है।

8. कुवैत (Kuwait) –

कुवैत के हर नागरिक को आयकर से मुक्ति मिली हुई है। हर नागरिक को सोशल इंश्योरेंस में योगदान देना जरूरी है।

9. कैमैन आइलैंड (Cayman island) –

कैमैन आइलैंड में न इनकम टैक्स देना पड़ता है और न ही सोशल इंश्योरेंस फण्ड में योगदान। हर नियोक्ता (एम्प्लॉयर) को अपने कर्मचारियों के लिए पेंशन स्कीम चलानी होती है। इसमें लगातार नौ माह से काम कर रहे बाहरी कर्मचारी भी शामिल होते है।

10. बहरीन (Bahrain) –
बहरीन में कोई इनकम टैक्स नहीं है, लेकिन सोशल इंश्योरेंस और इम्प्लायमेंट टैक्स जरूर लगता है। यहां हर नियोक्ता (एम्प्लॉयर)को अपने कर्मचारियों के लिए 12 फीसदी सोशल इंश्योरेंस टैक्स चुकाना होता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.