Times Bull
News in Hindi

EMI पर खरीदारी से पहले पढ़ लें यह जानकारी, नहीं होगा नुकसान

ऑनलाइन या ऑफलाइन कंपनियां ईएमआई पर प्रोडक्ट बेच रही है। (Without intrest ) इससे ग्राहक पैसा कम रहने पर भी पसंदीदा चीजों को समय पर खरीद पाता है। लेकिन ईएमआई पर खरीददारी से पहले आपको कुछ जरूरी चीजों को समझ लेना होगा () नहीं तो मुश्किल बढ़ सकती है और हो सकता है कि ज्यादा पैसा भरना पड़ जाए। इस समस्या से बचाने के लिए हम लेकर आए हैं कुछ उपाय। जिसे पढ़कर आप सावधानीपूर्वक ईएमआई पर खरीददारी कर पाएंगे। पूरा पढ़कर करें ईएमआई पर खरीददारी।

ईएमआई क्या है-

सरल शब्दों में समझ लिजिए कि एक प्रकार का लोन या यूं कहें कि आपको (EMI Proccess) किसी प्रोडक्ट की किमत पूरी ना देकर किश्तों में भरनी होती है। लेकिन इसके लिए आपको प्रिंटेड रेट से कुछ ज्यादा देना होता है। अलग-अगल कंपनियां ब्याज रखी हुई है जिसके आधार पर किश्त भरना होता है।

इन बातों का ख्याल रखें-
– प्रोडक्ट का सिलेक्शन सोच-समझकर करें। सस्ता या ईएमआई में मिल रहा है ऐसाम सोचकर ना खरीदें।
– संभव हो तो तीस फीसदी से ज्यादा डाउन पेमेंट करें ताकि ब्याज कम लगे।
– पेमेंट करने के लिए बैंक का चयन देखकर करें क्योंकि अलग-अलग बैंक के ब्याज दर कंपनियां निर्धारित कर रखती हैं। लेकिन प्रचार-प्रसार के चक्कर में कम ब्याज वाला रेट कंपनियां शो कराती हैं।
– संभव हो तो कम से कम किश्त में पैसा चूकाने का प्रयास करें। किश्त बनाते वक्त इसका ख्याल रखें।
– फ्री ईएमआई वाली बात को ध्यानपूर्वक पढ़ें क्योंकि उनके नीचे स्टार का मार्क बनाकर शर्ते-कानून दिए रहते हैं।

ईएमआई की शर्त-

ऑनलाइन या ऑफलाइन कंपनियां भले ही ईएमआई के नाम पर मार्केटींग कर रही है लेकिन आपको एक बात याद रखना होगा कि बिना क्रेडिट कार्ड ईएमआई पर खरीददारी नहीं कर पाएंगे। मतलब कि आप सोच रहे हैं कि एटीएम या डेबिट कार्ड से ईएमआई पर खरीददारी कर पाएंगे तो यह संभव नहीं है। इसलिए क्रेडिट कार्ड बनवा लें तभी ईएमआई का मजा ले पाएंगे।

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Related posts

रोचक और मजेदार खबरों के लिए अभी डाउनलोड करें Hindi News APP

Get real time updates directly on you device, subscribe now.