Surya Grahan or Solar Eclipse 2021 Date and Time : 21वीं सदी का सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण (शुक्रवार, 19 नवंबर, 2021) को लगा था। वहीं अब इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर (शनिवार) को लगेगा। यह पूर्ण सूर्य ग्रहण (Surya Grahan) होगा जब अमावस्या सूर्य और पृथ्वी के बीच आएगी और पृथ्वी पर अपनी छाया का सबसे गहरा हिस्सा, छाता, डालेगी।ग्रहण के दौरान ब्रह्मांड में कई अद्भुत घटनाएं घटित होती हैं.

सूर्य ग्रहण का समय

सूर्य ग्रहण का समय सुबह 10:59 बजे से शुरू होकर दोपहर 3:07 बजे तक चलेगा। यह सूर्य ग्रहण अंटार्कटिका, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा। भारत में सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा।

कैसे देखें भारत में सूर्य ग्रहण 2021?

2021 का दूसरा और आखिरी सूर्य ग्रहण ऐसे में भारत में नहीं दिखेगा, लेकिन आप 4 दिसंबर को आकाशीय घटना को ऑनलाइन लाइव देख सकते हैं। चंद्र ग्रहण दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में दिखाई नहीं देगा।

पौराणिक मान्यता के अनुसार ‘सूतक’ काल पूर्ण सूर्य या चंद्र ग्रहण की स्थिति में ही मान्य होता है। इस दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जा सकता है। यह सूर्य ग्रहण एक सूर्य छाया है, इसलिए ‘सूतक’ मान्य नहीं होगा, लेकिन मंदिर के गर्भगृह के दरवाजे बंद रहेंगे और गर्भवती महिलाओं को घर के अंदर विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है।

साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को कार्तिक कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को पड़ता है। इस सूर्य ग्रहण के दौरान दो बड़े ग्रह बुध और चंद्रमा भी अस्त होने जा रहे हैं। साथ ही राहु-केतु भी वक्री होंगे। ग्रहों की स्थिति में इस परिवर्तन का सभी राशियों पर कोई न कोई प्रभाव जरूर पड़ेगा।

हिन्दू पंचांग के अनुसार सूर्य ग्रहण का प्रभाव वृश्चिक राशि और अनुराधा और ज्येष्ठा नक्षत्र पर सबसे अधिक रहेगा।

Recent Posts

Latest Hindi News: Timesbull पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, बॉलीवुड, खेल...