Times Bull
News in Hindi

ताज महल से जुड़े मिथ और उनकी सच्चाई

Myth and Facts of Taj Mahal in Hindi : विश्‍व प्रसिद्ध ताज महल को लेकर लोगों के बीच कई तरह की चर्चाएं रहती हैं, जैसे- शाहजहां ने ताज बनाने वाले कारीगरों के हाथ कटवा दिए थे, वो काला ताज महल बनवाना चाहते थे, आदि । लेकिन इतिहासकार और पुरातत्‍व विभाग (ASI) की मानें तो हकीकत कुछ और ही है। आइए जानते है ताज महल से जुड़े 10 ऐसे ही मिथ और उनकी सच्चाई।

Myth : ताज महल को बनने नहीं दे रहे थे भूत और जिन्न।
Fact : इतिहासकारों के मुताबिक, भूत और जिन्नों द्वारा ताज की नींव को ध्वस्त करने का कोई सबूत नहीं है। यह सिर्फ अफवाह है।

Myth : पुरे दिन रंग बदलता है ताजमहल।
Fact : सफेद संगमरमर से बने होने की वजह से ताज महल पर सूर्य की किरणे पड़ती है, तो वक्तो के हिसाब से ताज सुबह में सुनहरा और शाम को गुलाबी दिखता है।

Myth: ताजमहल में दफ़्न है मुमताज की ममी।
Fact : 17 जून 1631 को बुहरानपुर में मुमताज की मौत हुई। उनका शव पहले बुहारनपुर, फिर निर्माणाधीन ताज महल के परिसर में दफनाया गया। 22 साल बाद मुमताज को तीसरी बार ताज के मुख्य स्मारक में दफनाया गया। ASI के पास ममी का सबूत नहीं है।

Myth : ख्वाब में देखकर बना था ताज का नक्शा।
Fact : इतिहास के मुताबिक, ताज महल की डिजाइन के लिए पूरी दुनिया के वास्तुकारों से मदद ली गई थी। लेकिन किसने डिजाइन किया यह नहीं कहा जा सकता है।

Myth : काला ताज महल बनवाना चाहते थे शाहजंहा।
Fact : ASI के मुताबिक, काला ताज महल कभी अस्तित्व में भी नहीं था और न ही इसके निर्माण की योजना के सबूत मिले है गाइडों ने 1910 से काला ताज महल की कहानी गढ़ी।

Myth : ताज महल शिव मन्दिर है।
Fact : ASI ने आगरा कोर्ट में जवाब दाखिल कर कहा की ताज महल का निर्माण शाहजंहा ने कराया था। इसके हिन्दू मन्दिर का सबूत नहीं मिला है।

Myth : चांदनी रात को चमकता है ताज महल।
Fact : ताज महल में दुनिया के 28 तरह के पत्थर लगे है। कई पत्थरों की खासियत है कि यह चाँद की रौशनी में चमकते है। शरद पूर्णिमा के दौरान पत्थरों के चमकने से ताज खूबसूरत लगता है।

Myth : शाहजंहापुर और मुमताज की कब्र पर टपकता है पानी।
Fact : उर्स के दौरान भीड़ होती है। ऐसे में ह्यूमिडिटी बढ़ जाती है। दीवार पर पानी की बुँदे आ जाती है। भीड़ खत्म होने पर बुँदे गायब हो जाती है।

Myth : शाहजंहा ने ताज महल के 20 हजार कारीगरों के हाथ कटवा दिए थे।
Fact : इतिहासकारों के मुताबिक, शाहजंहा ने कारीगरों से आजीवन काम न करने का वादा लिया था। इसके बदले में उन्हें जिंदगी भर वेतन दिया।

Myth : मुमताज के शोक में हुई थी शाहजंहा की मौत।
Fact : शाहजंहा की मौत की अफवाह के बाद उनके बेटो में युद्ध हुआ। औरंगजेब जीत गया और शाहजंहा को बन्दी बना लिया। बीमारी के चलते 74 साल में उसकी मौत हो गई।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.