Times Bull
News in Hindi

ऑयली स्किन है तो ना छुएं बार-बार चेहरा, जानिए और उपाय

ऑयली स्किन न केवल चेहरे की खूबसूरती डल करने का काम करती है बल्कि यह कील-मुंहासे होने का मुख्य कारण भी बनती है। ऑयली स्किन होना एक तरह से परेशानी का सबब ही होता है। कई बार लाख कोशिश करने के बाद भी बहुत देर तक ऑयली स्किन को ड्राई नहीं रखा जा सकता है। अगर आपकी त्वचा भी बहुत ज्यादा तैलीय है तो इन बातों का विशेष ध्यान रखें।

ऑयली त्वचा की सही से देखभाल करने के दौरान आपको चाहिए कि आप हफ्ते में दो बार स्क्रब का इस्तेमाल चेहरे पर जरूर करें। स्क्रबिंग के दौरान यह याद रखें कि दो बार से ज्यादा न करें। बाहरी स्क्रब लेने से पहले प्रोडक्ट के बारे में सही जानकारी जरूर रखें। अगर आप घरेलू स्क्रब बनाना चाहती हैं तो शहद और चीनी का मिश्रण तैयार क रें। इसे चेहरे पर हल्के हाथ से लगाएं। यह बहुत बढिया घरेलू स्क्रब है।

बार-बार चेहरा छूने की अपनी आदत को खत्म करें। क्योंकि बार-बार चेहरा छूने से गंदगी और धूल आदि के कण त्वचा के अंदर जा सकते हैं। इससे न केवल त्वचा के पोर्स बड़े होते हैं बल्कि तेल का उत्सर्जन भी ज्यादा होता है। अगर आप चाहती हैं कि आपके चेहरे की सुंदरता बरकरार रहे तो बार-बार चेहरा न छुएं। ऎसा करके आप यकीनन अपनी खूबसूरती ही बढ़ाएंगी। कई लोगों को आदत होती है बार बार चेहरे को छूने की इसलिए इन आदत को बदलने की कोशिश करें।

आप अगर मेकअप फ्री रह सकती हैं तो रहें। बेवजह मेकअप चेहरे पर न थोपें। इसके साथ ही मेकअप खरीदते वक्त यह जरूर ध्यान रखें कि मेकअप स्पेशली ऑयली स्किन के लिए बना हो साथ ही वॉटर बेस्ड हो। इसके अलावा मेकअप प्रोडक्ट खरीदते वक्त उसे लगाकर चेक कर लें कि वह आपकी त्वचा के हिसाब से सही है या नहीं।

बहुत सी महिलाएं जिनकी त्वचा तैलीय होती है वह रोजाना मॉइस्चराइजर लगाने से बचती हैं। क्योंकि उनका मानना है कि इससे त्वचा और ज्यादा तैलीय होती है। जबकि मॉइस्चराइजर का उपयोग करने से त्वचा में नमी बरकरार रहती है जिस कारण तेल का प्रोडक्शन कम होता है। मॉइस्चराइजर खरीदते वक्त ध्यान रखें कि वह वॉटर बेस्ड हो और बाजार से लेते समय उसकी एक्पाइरी डेट जरूर देख लें।

त्वचा से अतिरिक्त तेल हटाने के लिए आप ब्लॉटिंग पेपर का प्रयोग करें। कुछ महिलाएं तैलीय त्वचा को साफ रखने के लिए टेल्कम पाउडर का इस्तेमाल करती हैं, पर स्किन स्पेशलिस्ट कहते हैं कि पाउडर के इस्तेमाल से अच्छा ब्लॉटिंग पेपर का इस्तेमाल करें। ब्लॉटिंग पेपर तेल को एब्जॉर्ब करके त्वचा में ताजगी बनाए रखता है। जिससे त्वचा में चमक बनी रहती है। सफर के दौरान टि्श्यू पेपर भी त्वचा की चिपचिपाहट को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

सनब्लॉक का इस्तेमाल करने से भी त्वचा में तेल का उत्पादन कम होता है। अगर आप अलग से सनब्लॉक का इस्तेमाल नहीं करना चाहती हैं तो ऎसे मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें, जिसमें सनब्लॉक का इस्तेमाल हुआ हो। इससे आपके ऑइली त्वचा से छुटकारा मिलेगा। तैलीय त्वचा यदि सौन्दर्य प्रसाधनों के प्रति अति संवेदनशील है, तो घर पर स्टीम से चेहरे को साफ रखें।

ऑयली स्किन से ये घरेलू उपाय देंगे निजात- नींबू

ऑयली त्वचा को दूर करने के लिए नींबू के रस में खीरे के रस की कुछ बूंदें मिलाएं। इसे 15 मिनट तक चेहरे पर लगाकर रखें और फिर चेहरा ठंडे पानी से धो लें। कुछ दिन इस प्रक्रिया को अपनाने पर आपको फर्क साफ नजर आने लगेगा।

मुल्तानी मिट्टी: चेहरे को मुल्तानी मिट्टी, हल्दी, बेसन आदि से बने उबटन से साफ करें, ये त्वचा की तेल ग्रंथियों से निकलने वाले अतिरिक्त तेल सोख लेते हैं।

ऑयल फ्री फेसवॉश: हमेशा चैक करके ही फेसवॉश खरीदें। दिन में 2-4 बार चेहरा धोएं। चेहरा केवल ऑयल फ्री फेसवॉश से ही धोएं। इससे चेहरा धोते ही आपका ऑयल धुल जाएगा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.