ओलम्पिक में खेलना चाहते हैं टाइगर वुड्स

Tiger Woods wants to play at the Olympics

दिग्गज गोल्फ खिलाड़ी टाइगर वुड्स ने अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलम्पिक खेलों में हिस्सा लेने की ख्वाहिश जताई है। वह ओलम्पिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में खेलने के लिए उत्साहित हैं।

रियो ओलम्पिक-2016 में लंबे अरसे बाद ओलम्पिक की वापसी हुई थी लेकिन वुड्स चोट के कारण इस पूरे साल खेले नहीं थे और इसी कारण वह ओलम्पिक नहीं खेल पाए थे।

ईएसपीएन ने वुड्स के हवाले से लिखा, “मैं कभी भी ओलम्पिक में नहीं खेला हूं। मैं इस बात को लेकर भी आश्वस्त हूं कि मेरे पास आगे जाने के ज्यादा मौके नहीं हैं। यह मेरे लिए पहली बार होगा और ऐसी चीज होगी जिसका हिस्सा बनने का मैं स्वागत करूंगा।”

ओलम्पिक के क्वालीफिकेशन के लिए आधिकारिक वर्ल्ड गोल्फ रैंकिंग को देखा जाता है। हर देश से कुल चार खिलाड़ी ओलम्पिक में खेलने के हकदार होते हैं, बशर्ते वह विश्व रैंकिंग में शीर्ष-15 में हों। अंतर्राष्ट्रीय गोल्फ महासंघ ने क्वालीफिकेशन जुलाई-2018 से 2020 में होने वाला अमेरिका ओपन के बीच का समय रखा है।

वुड्स ने कहा, “वहां पहुंचना और टीम का हिस्सा बनना काफी मुश्किल होता है। मुझे कितने और टूर्नामेंट खेलने होंगे, क्या मुझे कुछ और ज्यादा टूर्नामेंट खेलने होंगे? आगे जाने को लेकर इन सभी सवालों के जवाब ढूंढ़ने होंगे। मुझे लगता है कि अगर मैं इसी साल की तरह अच्छा खेलता रहा तो चीजें अपने आप हो जाएंगी।”

ओलम्पिक में पुरुष गोल्फ टूर्नामेंट 30 जुलाई से दो अगस्त के बीच होना है। वुड्स इस समय गुरुवार से शुरू होने वाली पीजीए चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने को तैयार हैं।