Times Bull
News in Hindi

13 साल से कोई नहीं तोड़ सका धोनी का ये खास रिकॉर्ड, रचा था इतिहास

On this day in 2005, MS Dhoni scored his career-best 183 vs Srilanka

आज से 13 साल पहले यानि 31 अक्टूबर 2005 को भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने श्रीलंकाई टीम को नाकों तले चने चबाने को मजबूर कर दिया था। इस दिन जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में श्रीलंका के खिलाफ हुए वनडे मैच में धोनी ने ऐसी तूफानी पारी खेली थी, जिसकी याद आज भी लोग के जहन में जिंदा है। इस मैच में धोनी ने 145 गेंदों पर 183 रन की विस्फोटक पारी खेली थी। धोनी ने विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर यह वनडे इतिहास का सबसे बड़ा निजी स्कोर बनाया था, जिसे आज तक कोई नहीं थोड़ सका। उस समय धोनी ने ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज एडम गिलक्रिस्ट के 172 रनों के रिकॉर्ड को तोड़ा था।

श्रीलंका ने दिया था 299 रन का लक्ष्य

उस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने निर्धारित 50 ओवर में कुमार संगकारा की 138 रनों की शानदार पारी की बदौलत 298 रनों का स्कोर खड़ा किया था। उन दिनों 299 का लक्ष्य काफी चुनौती पूर्ण हुआ करता था लेकिन माही ने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के आगे इसे बौना साबित कर दिया। उस मैच में टीम इंडिया के कप्तान राहुल द्रविड़ ने धोनी को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतारा था क्योंकि भारतीय टीम ने केवल 7 रनों के स्कोर पर अपने स्टार बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का विकेट खो दिया था।

85 गेंदों में जड़ा था शतक

लेकिन धोनी ने अपने कप्तान के भरोसे को कायम रखते हुए शानदार अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया को जीत दिलाई। धोनी ने चामिंडा वास और मुथैया मुरलीधरन जैसे खतरनाक गेंदबाजों की जमकर की धुनाई की। इस मैच में धोनी ने 40 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया, जबकि 85 गेंदों में शतक जड़ा था। धोनी ने अपनी इस विस्फोटक पारी में 15 शानदार चौके और 10 गगनचुंबी छक्के लगाए थे। उनकी इस पारी की बदौलत टीम इंडिया ने मात्र 46.1 ओवर में ही 303 रन बनाकर मैच 6 विकेट से यह मैच जीत लिया था।


Leave A Reply

Your email address will not be published.