News in Hindi

अगर आपको भी हो रही है कॉल ड्रॉप की समस्या तो यहां करें मुफ्त में शिकायत

टेलिकॉम आपरेटर्स की एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में जहां एक तरफ उपभोक्ताओं का फायदा हो रहा है, वहीं दूसरी तरफ दिनों दिन कॉल ड्रॉप की समस्या बढ़ती जा रही है। सरकार के तमाम प्रयासों के बाद न तो अब तक उपभोक्ताओं को कॉल ड्रॉप की समस्या से पूरी तरह से निजात मिल सकी है और न ही इसकी एवज में कोई हर्जाना।

कॉल ड्रॉप की समस्या पर दूरसंचार उपभोक्ताओं की प्रतिक्रिया जानने के लिए अब सरकार एक टोल फ्री नंबर 1955 शुरू करने जा रही है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार कॉल ड्रॉप पर आईवीआरएस सिस्टम के लिए शॉर्ट कोड 1955 आवंटित किया गया है। दूरसंचार कंपनियों के लिए इस नंबर का प्रावधान करना अनिवार्य होगा और स्थानीय व एसडीटी कॉल के लिए इसकी पहुंच होनी चाहिए।

सरकारी दूरसंचार कंपनी एमटीएनएल को इस शॉर्ट कोर्ड की व्यवस्था करने के निर्देश दे दिए गए हैं। वहीं दूरसंचार कंपनियों को निर्देश दिया गया है कि वे एमटीएनएल से किसी तरह का समन्वय, रखरखाव, परिचालन शुल्क नहीं लेंगी।

सेल्यूलर आपरेटर्स एसोसिएशन आफ इंडिया ;सीओएआई: ने कहा कि उद्योग ने दूरसंचार विभाग से आईवीआरएस प्रणाली के लिए शॉर्ट कोड 1955 के क्रियान्वयन के लिए राउटिंग, शुल्क आदि के बारे में तकनीकी स्पष्टीकरण मांगा है। सीओएआई के महानिदेशक राजन एस मैथ्यूज ने कहा, इस बारे में जवाब की प्रतीक्षा है।