News in Hindi

रणवीर, सनी लियोनी और कई स्टार्स के ये एड हो चुके हैं बैन

एडवर्टीजमेंट टीवी चैनल्स की कमाई का बड़ा जरिया हैं। ग्राहकों को अकर्षित करने के लिए आए दिन यूनीक आइडियाज के साथ एड्स बनाए और प्रसारित किए जाते हैं। वहीं कुछ एड्स ऐसे भी हैं जिन पर बैन लग चुका है, वजह है इन्हें परिवार के बीच बैठ कर नहीं देखा जा सकता है। यहां पढ़ें ऐसे ही कुछ टीवी विज्ञापनों के बारे में जिन्हें किया जा चुका है बैन –

ड्यूरेक्स कंडोम

ranveerdurexcondom_042314030546

यह विज्ञापन वर्ष 2014 में बना था। इसमें रणवीर सिंह और एक मॉडल के बीच काफी बोल्ड सीन दिखाए गए थे। इसे परिवार के साथ बैठ कर नहीं देखा जा सकता था, जिसके चलते इस पर रोक लगा दी गई थी।

मैनफोर्स कंडोम

sunny-leone

यह विज्ञापन 2015 में बना था जिसमें अभिनेत्री सनी लियोनी काफी हॉट अंदाज में नजर आई थीं। देश भर में इन ऐड्स का काफी विरोध हुआ था। कई पॉलिटिशियंस और समाजसेवी संस्थाओं ने कहा था कि सनी का यह उत्तेजित करने वाला विज्ञापन देश में रेप की घटनाओं को बढ़ावा देगा। खासकर इस विज्ञापन की भाषा पर आपत्ति जताई गई थी। विवाद के बाद इस ऐड पर बैन लग गया।

कैलीडा

यह विवादित विज्ञापन 1998 में बना था। इसमें अभिनेता डीनो मोरिया अभिनेत्री बिपाशा बसु की पैंटी को अपने दांतों से खींचते नजर आते हैं। कई महिला संगठनों ने इस विज्ञापन का विरोध किया था जिसके बाद इस पर बैन लग गया था। इस पर बिपाशा का भी कहना था कि वो निजी पल थे, जिसका इस्तेमाल करना गलता है।

टफ शू

यह विज्ञापन 1995 में बना था जिसमें सुपरमॉडल मिलिंद सोमण और मधु सप्रे टफ शू पहने दिखते हैं। इन दोनों ने इस एड में जूते के अलावा और कुछ भी नहीं पहना और अजगर को अपने गले में लपेटा हुआ है। वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत अजगर के गलत इस्तेमाल के चलते इस ऐड को बैन किया गया।

मिस्टर इंस्टेंट कॉफी

यह ऐड 1993 में आया था और बेशक अरबाज खान और मलाइका अरोड़ा के रिश्ते की नींव इसी विज्ञापन ने रखी, लेकिन फिर भी इस विज्ञापन को बैन कर दिया गया। उस समय के लिहाज से यह एड काफी हॉट था। इसे कामसूत्र कैपेनियन से प्रेरित बताया गया था। रियल प्लेजर कांट कम इन एन इंस्टेंट टैगलाइन वाले इस विज्ञापन को वैधानिक रूप से मिसलीडिंग मानते हुए बैन किया गया था।