News in Hindi

मिल रहा है ऑनलाइन साइट्स पर भारी डिस्काउंट, सीएसटी से पहले स्टॉक क्लीयर कर रहे वेंडर्स

यह लगभग तय माना जा रहा है कि 1 जुलाई से देशभर में जीएसटी लागू हो जाएगा। इसके बार जहां काफी सारी चीजों पर टैक्स का बोझ घटने से वो सस्ती हो जाएंगी, वहीं कई चीजें महंगी भी होंगी। इस बीच ई-कॉमर्स कंपनियों पर प्रोडक्ट्स बेचने वाले ऑनलाइन वेंडर्स जीएसटी लागू होने से पहले अपना स्टॉक क्लीयर करने में जुट गए हैं। इसके लिए वे 40 से 50 फीसदी तक का डिस्काउंट भी दे रहे हैं।

ये वेंडर्स जीएसटी के तहत 28 फीसदी टैक्स के दायरे में आने वो प्रोक्ट्स का स्टॉट जल्दी से जल्दी खत्म करना चाहते हैं, क्योंकि जीएसटी लागू होने के बाद इन प्रोडक्ट्स को बेचने पर उन्हें नुकसान होगाा। इसके चलते फिटनेसा प्रोडक्ट्स पर 50 फीसदी, वॉच सेगमेंट में 70 से 80 फीसदी और ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर कस्टमर्स को 40 फीसदी से ज्यादा डिस्काउंट मिल सकता है।

ऑल इंडिया ऑनलाइन वेंडर्स एसोसिएशन के वक्ता ने बताया कि वॉच, स्पोर्ट्स और फिटनेस इक्विपमेंट्स आदि दूसरे प्रोडक्ट्स पर 28 फीसदी जीएसटी लगेगा, जबकि वर्तमान में इन पर कम वैट लगता है। ऐसे में जो स्टॉक पड़ा हुआ है ऑनलाइन वेंडर्स इनकी एमआरपी भी नहीं बदल सकते। ऐसे में अगर जीएसटी आने के बाद यह सामान बेचा जाता है तो वेंडर्स को प्रॉफिट नहीं बचेगा। यही वजह है कि फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसी साइट्स पर लगातार सेल चल रही है।