News in Hindi

बिना टिकट ट्रेन में चढऩे पर नहीं होगा जुर्माना !

बिना टिकट ट्रेन में चढऩे का मतलब यह नहीं है कि आप बिना टिकट ट्रेन में सफर कर सकते हैं। दरअसल भारतीय रेलवे ने यात्रियों को राहत दी है। कई बार ऐसा होता है कि ट्रेन छूटने वाली होती है और टिकट काउंटर पर लंबी लाइन के चलते यात्री टिकट नहीं ले पाते। फिर ट्रेन में बिना टिकट चढऩे के लिए उन्हें जुर्माना भरना पड़ता है। अब ऐसा नहीं होगा।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि अब अगर आप ट्रेन में बिना टिकट लिए चढ़ते हैं तो आप ट्रेन में भी टिकट खरीद सकते हैं। इससे बिना टिकट यात्रा करने वाले अब बहाने नहीं बना सकेंगे और उन्हें टिकट खरीदना ही पड़ेगा। हालांकि यह उन लोगों के लिए राहत की खबर है, जिन्हें टिकट न मिलने पर मजबूरीवश ट्रेन में चढऩा पड़ता था और बाद में जुर्माना चुकाना पड़ता था।

रेलवे ने 1 अप्रेल से ही टे्रन के अंदर टिकट देने की व्यवस्था शुरू कर दी है। इसके लिए यात्री को ट्रेन से उतरने की जरूरत नहीं है और न ही इंटरनेट की जरूरत होगी। यात्री ट्रेन में ही टी टीई से संपर्क कर टिकट ले सकेंगे। यानी कि अब अगर आपके पास टिकट नहीं है तो टीटीई को देखकर छुपने की या डरने की जरूरत नहीं है। बस आपको जागरुक नागरिक की तरह टीटीई को बाना होगा कि आपके पास टिकट नहीं है और किस कारण से आप बिना टिकट ट्रेन में चढ़े हैं।

 

इसके बाद टीटीई आपको टिकट काटकर देगा और तय किराए के साथ 10 रुपए अतिरिक्त शुल्क लेकर हैंड होल्ड मशीन से टिकट निकालकर देगा। फिलहाल यह सुविध केवल सुपरफास्ट ट्रेनों में शुरू हुई है, बाद में इसे सभी ट्रेन्स के लिए शुरू किया जा सकता है। वहीं अगर किसी यात्री की वेटिंग क्लीयर नहीं हुई है तो वह टीटीई के पास जाकर अपना टिकट दिखाकर खाली सीट की जानकारी लेकर उसे कन्फर्म करवा सकता है।