News in Hindi

21 अगस्त को होगा पूर्ण सूर्यग्रहण, भूलकर भी न करें ये गलतियां

हाल साल में करीब दो से तीन बार सूर्य ग्रहण लगता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह वक्त अधिकतम राशियों के लिए भारी होता है। यह समय ईश्वर का ध्यान करने का होता है। इस बार साल का दूसरा सूर्यग्रहण 21 अगस्त को होगा। हालांकि खास बात यह है कि यह पूर्ण सूर्यग्रहण होगा। देश विदेश से खगोलविद इस ऐतिहासिक खगोलीय घटना का साक्षी बनना चाहते हैं और इसके लिए अमेरिका जा रहे हैं।

एक अखबार से खास बातचीत में बेंगलूरु के भारतीय तारा भौतिकी संस्थान के प्रोफेसर रमेश कपूर ने बताया कि 21 अगस्त के पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान पूर्णता का पथ अमेरिका के बड़े भू-भाग से होकर गुजरेगा। यह अमेरिका के एक तट से दूसरे तट को छूकर गुजरने वाला है। इसकी शुरुआत अमेरिका के उत्तर पश्चिमी छोर से होगी और अंत दक्षिण पूर्वी छोर में होगा। वर्ष 1979 के बाद अमेरिका से देखे जाने वाला यह पहला पूर्ण ग्रहण है।

16 फरवरी 1980 को भारत में हुए था यह संयोग

इससे पहले 16 फरवरी 1980 को भारत में ऐसा अवसर आया था जब पूर्णता का पथ भारत के अपने राज्यों के ऊपर से होकर गुजरा था। वह बीसवीं सदी का पहला पूर्ण सूर्यग्रहण था, जो भारत से देखा गया था। हालांकि उन दिनों प्रचार माध्यम केवल आकाशवाणी, समाचार पत्र व बेहद सीमित रूप में दूरदर्शन ही थे। भरत में 21वीं शताब्दी का पहला पूर्ण ग्रहण 22 जुलाई 2009 को हुआ था।