सर्वोच्च न्यायालय का माफी मांगने का आदेश गलत संदेश : पूनम महाजन

Supreme Court's order to apologize wrong message: Poonam Mahajan

भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) प्रमुख पूनम महाजन ने मंगलवार को प्रियंका शर्मा को रिहा किए जाने के फैसले का स्वागत किया, लेकिन कहा कि शीर्ष न्यायालय के माफी मांगने के निर्देश ने एक गलत संदेश दिया है।

प्रियंका शर्मा को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री पर एक मीम बनाने के कारण गिरफ्तार किया गया था।

प्रियंका शर्मा को जमानत दिए जाने के तुरंत बाद पूनम ने कहा, “मैं उनकी (प्रियंका शर्मा) तत्काल रिहाई के लिए सर्वोच्च न्यायालय की आभारी हूं, लेकिन माफी मांगने के निर्देश ने स्वंतत्र अभिव्यक्ति के सवाल पर गलत संदेश दिया है।”

पूनम महाजन ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री पर निशाना साधा और उन्हें ‘हिटलर दीदी’ करार दिया।

उन्होंने कहा, “ममता दीदी जैसी राजनेता, जिन्हें हम खुले तौर पर हिटलर दीदी कहते हैं, अपने अधिकार का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे और अपने अहंकार को तुष्ट करने के लिए करती हैं।”

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में अराजकता है और कोई भी जो राज्य सरकार से सवाल पूछता है उसे सलाखों के पीछे डाल दिया जाता है।

पूनम ने कहा, “राज्य के लोग 23 मई को जवाब देंगे, जब लोकसभा चुनावों के नतीजे आएंगे।”

प्रियंका शर्मा सोशल मीडिया पर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी की फोटोशॉप्ड तस्वीर साझा करने की आरोपी हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा की बीते सप्ताह न्यूयॉर्क सिटी में मेट गाला समारोह की तस्वीर पर इसे फोटोशॉप्ड किया गया था।

प्रियंका शर्मा को 10 मई को गिरफ्तार किया गया और 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।