News in Hindi

GST लागू होने से पहले बैंक को दे दें ये जानकारियां, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान

देशभर में 1 जुलाई से जीएसटी लागू होने जा रहा है। ऐसे में बैंक अपने ग्राहकों से जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर सहित अन्य डिटेल मांग रहे हैं। बैंकों को इस मामले में बिल्कुल भी हल्के में न लें और तमाम मांगी गई जानकारियां जल्दी से जल्दी मुहैया करवाएं। बैंक यह जानकारियां इसलिए मांग रहा है ताकि उनके पास ग्राहक का बिजनेस रिकॉर्ड हो। 30 जून से पहले पहले आपको बैंक को मांगी गई तमाम जानकारियां देती हैं।

इन लोगों को देनी हैं जानकारियां

बैंक यह जानकारियां केवल उन्हीं लोगों से मांग रहे हैं जिनके लिए जीएसटी कानून के तहत कारोबार करने के लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर लेना जरूरी है। अगर आप भी उन लोगों में आते हैं, तो बैंक को अपनी डिटेल दें। आपको बता दें कि जीएसटी के तहत सालाना 20 लाख रुपए से ज्यादा का कारोबार करने वालों को जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है।

बैंक को देनी है ये डिटेल्स

अगर आपके लिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन लेना जरूरी है, तो बैंक में आपको अपना बैंक अकाउंट नंबर, जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर देना होगा। इसके अलावा अगर आपको कोई स्पेशल स्टेटस मिला है जैसे सेज के तहत छूट, तो आपको इसकी जानकारी भी देनी होगी। आपको अथॉरिटीज की ओर से जारी की गई जीएसटी रजिस्ट्रेशन डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी भी देनी होगी। सर्विस प्रोवाइडर्स को पेमेंट करते समय काटे जाने वाले टीडीएस की डिटेल भी देनी होगी।

एक ही हो ईमेल

जीएसटी रजिस्ट्रेशन में आपका ईमेल एड्रेस वहीं होना चाहिए जो ईमेल एड्रेस बैंक के पास है। दोनों में अंतर होने पर आपको बैंक अकाउंट के लिए ईमेल एड्रेस को अपडेट करना होगा।