कश्मीर घाटी में दुष्कर्म के खिलाफ छात्रों का प्रदर्शन जारी

Students protest against rape in Kashmir Valley

जम्मू एवं कश्मीर के बंदीपोरा जिले में बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म मामले के विरोध में मंगलवार को कई जगहों पर घाटी में छात्र सड़कों पर उतरे और सुरक्षाबलों के साथ उनका टकराव हुआ।

अमर सिंह कॉलेज के छात्र कैंपस से बाहर आए और यहां उनकी सुरक्षा बलों से झड़प हुई। छात्र, पीड़िता के लिए न्याय और गिरफ्तार किए गए आरोपियों के खिलाफ मामले की त्वरित सुनवाई की मांग कर रहे थे।

जघन्य अपराध के खिलाफ श्रीनगर में कश्मीर विश्वविद्यालय कैंपस के छात्रों ने भी बड़ी संख्या में प्रदर्शन किया।

छात्रों ने हाथों में बैनर पकड़कर आरोपियों को मौत की सजा देने की मांग की। उन्होंने कहा कि किसी भी पार्टी को इस गंभीर मुद्दे पर वोट बैंक की राजनीति किए बिना इस बात की कोशिश करनी चाहिए की पीड़िता को जल्द से जल्द न्याय मिले।

दूसरी जगहों पर छात्रों ने शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन किए।

पुलिस ने इस मामले में आरोपी ताहिर अहमद मीर को गिरफ्तार किया है। साथ ही जांच पड़ताल को पूरा करने के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का भी गठन किया है।

रमजान के पवित्र महीने में 9 मई को जब घाटी के मुसलमान अपना रोजा खोल रहे थे, उस समय आरोपी ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया।

पुलिस ने एक निजी स्कूल के प्रिंसिपल को भी गिरफ्तार किया है, जिसने आरोपी को नाबालिग बाताने के लिए झूठा जन्म प्रमाणपत्र जारी किया था।

प्रारंभिक चिकित्सा परीक्षा से पता चला है कि आरोपी बालिग है।

सभी धार्मिक, राजनीतिक और सामाजिक संगठनों ने घटना की निंदा की है और साथ ही सभी लोगों से सांप्रदायिक भाईचारे को बनाए रखने की अपील की है ताकि पुलिस को जांच करने में मदद मिल सके।

Loading...