Times Bull
News in Hindi

आखिर Akhtar ने Dravid को ऐसा क्या कहा था कि वे 99 पर आउट हो गए

भारत और पाकिस्तान के बीच हमेशा ही रोमांचक रहे हैं। एक मैच  13 मार्च 2004 को कराची में खेला गया था। इस मैच में राहुल द्रविड 99 पर आउट हो गए थे। उनके पास शतक बनाने का मौका था, लेकिन वे अख्तर का शिकार बन गए।

अख्तर मैच का 48वां ओवर डाल रहे थे। उन्होंने इस ओवर की तीसरी गेंद 140 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से डाली। इस पर द्रविड ने दो रन बटोरे और वे 99 पर पहुंच गए। अगली बॉल फेंकने से पहले शोबए द्रविड के पास आए और बोले कि अगली बॉल स्लोअर होगी, आप शतक पूरा कर लेना, लेकिन द्रविड ने उन पर भरोसा नहीं किया। हालांकि अगर बॉल सच में स्लोअर गेंद थी, जिसकी स्पीड 115 किलोमीटर प्रति घंटा थी, लेकिन इस गेंद पर द्रविड क्लीन बोल्ड हो गए। (यह किस्सा कोरा डॉट कॉम से लिया गया है।)

शोएब अख्तर ने एक बार इंटरव्यू में यह स्वीकार किया था, ‘बेशक सचिन तेंदुलकर क्रिकेट के भगवान हैं और उनका विकेट किसी भी गेंदबाज के लिए बड़ी उपलब्धि होता था, लेकिन मुझे उनसे ज्यादा डर राहुल द्रविड से लगता था। द्रविड ऐसे बल्लेबाज थे जो आपको मानसिक रूप से मारते थे और शारीरिक रूप से थका देते थे।’

अख्तर ने कहा था, ‘द्रविड को मैदान पर केवल एक ही व्यक्ति रोक सकता था और वह थेे वसीम अकरम। मैं ये नहीं कर पाता था। खासकर टैस्ट मैच में उन्हें गेंद डालना सबसे मुश्किल काम होता था। वे मोहम्मद अली की तरह खेलते थे। पहले आपको थकाते थे, फिर आपकी धुलाई करते थे।’

Get real time updates directly on you device, subscribe now.