News in Hindi

अब पेट्रोल पंप पर नहीं कर सकेंगे क्रेडिट—डेबिट कार्ड से पेमेंट

जब से देश में नोटबंदी हुई है तब से ही कैश की भारी समस्या हो रही है। लोग घंटों बैंक और एटीएम के बाहर लंबी लाइन में खड़े होकर कैश निकलने का इंतजार कर रहे हैं। इस बीच कैशलेस ट्रांजेक्शंस ने कुछ हद तक राहत देने का काम किया है, हालांकि अब यह राहत पेट्रोल पंप पर नहीं मिल सकेगी। सोमवार से आप पेट्रोल पंप पर क्रेडिट या डेबिट कार्ड से पेमेंट नहीं कर सकेंगे।

Read More – पेट्रोल पंप पर ऐसे होते हैं आप ठगी के शिकार, बचने का ये है तरीका

Read More – एलपीजी सिलेंडर का पेमेंट ऑनलाइन करने पर मिलेगी भारी छूट

दरअसल बैंकों ने अचानक ही पीओएस यानी कि पॉइंट आॅफ सेल से पेमेंट पर 1 प्रतिशत लेवी बढ़ा दी है। बैंकों के अचानक इस फैसले से तो तेल मंत्रालय भी हैरान है। वहीं लेवी बढ़ने से पेट्रोल पंप डीलर्स ने सोमवार से कार्ड से पेमेंट लेने से मना कर दिया है। यानी कि अब आपको पेट्रोल पंप पर केवल कैश से ही पेमेंट करना होगा। हालांकि बैंकों और पेट्रोल पंप डीलर्स के इन फैसलों ने कैश कि किल्लत से जूझ रहे उपभोक्ताओं की परेशानी और बढ़ गई है।

उधर दिल्ली में तेल मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार उन्हें बैंकों के इस निर्णय की कोई जानकारी नहीं थी, उन्होंने बैंकों से इस निर्णय को तुरंत वापस लेने को कहा है। हालांकि अपभोक्ताओं के लिए एक राहत की खबर यह है कि बैंकों ने कस्टमर यूजिंग कार्ड्स पर किसी तरह की लेवी नहीं लगाई है।

गौरतलब है कि पेट्रोल पंप डीलर्स के इस निर्णय से अब केंद्र सरकार के नॉन कैश ट्रांजेक्शन पर 0.75 प्रतिशत कैशबैक की सुविधा को झटका लगा है। आईसीआईसीआई, एचडीएफसी और एक्सिस बैंक ने शनिवार रात को ही डीलर्स को नोटिस भेजकर यह सरचार्ज बढ़ाने की जानकारी दी। नोटिस मिलने के बाद रविवार को पेट्रोल पंप डीलर्स असोसिएशन ने बेंगलुरु में मिटिंग कर कार्ड पेमेंट से भुगतान न लेने का फैसला किया है।

पेट्रोल पंप डीलर्स का कहना है कि लेवी बढ़ाने से उनके मुनाफे पर असर पड़ेगा। अगर बैंक हर ट्रांजेक्शन पर 1 फीसदी लेवी काटेंगे, तो पेट्रोल पंप डीलर्स को घाटा होगा।